सामाजिक न्याय मंत्री श्री घनघोरिया ने बांटे दिव्यांग छात्र-छात्राओं को कृत्रिम उपकरण

0

जबलपुर :सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण मंत्री श्री लखन घनघोरिया ने आज जिला शिक्षण प्रशिक्षण संस्थान में आयोजित एक कार्यक्रम में दिव्यांग छात्र-छात्राओं को व्हीलचेयर, ट्राइसाइकिल, कैलीपर्स, ब्रेलकिट एवं अन्य कृत्रिम उपकरणों का वितरण किया । इस अवसर पर श्री घनघोरिया ने नि:शक्तजनों की सहायता को सबसे बड़ा पुण्य का कार्य बताते हुए कहा कि मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ की सरकार नि:शक्तजनों की सेवा के हर कार्य को प्राथमिकता से पूरा करेगी । सामाजिक न्याय मंत्री ने अपने संबोधन में सर्वशिक्षा अभियान के तहत चिन्हित सभी दिव्यांग छात्र-छात्राओं को एक माह के भीतर उनकी आवश्यकता के मुताबिक कृत्रिम उपकरणों को प्रदान करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिये । उन्होंने कहा कि जरूरतमंदों को शासकीय योजनाओं का लाभ समय पर मिले यह हर हाल में सुनिश्चित किया जाना चाहिए । श्री घनघोरिया ने इस अवसर पर अपने हाथों से अस्थिबाधित एवं दृष्टिबाधित दिव्यांग बच्चों को ट्राइसिकल, व्हीलचेयर, कैलीपर्स, ब्रेलकिट, स्मार्ट फोल्डिंग स्टिक तथा मानसिक रूप से अविकसित बच्चों को एमआर किट्स प्रदान की । सामाजिक न्याय मंत्री ने इस मौके पर दिव्यांग बच्चों को कृत्रिम उपकरण मिलने पर बधाई दी । उन्होंने कहा कि इनकी सहायता से इन बच्चों की न केवल दिनचर्या में सुधार होगा, बल्कि उनका आत्मबल भी बढ़ेगा । वे पढ़ाई की तरफ ज्यादा ध्यान दे सकेंगे तथा उनके अंदर छिपी प्रतिभा में भी निखार आयेगा ।
कार्यक्रम में सर्वशिक्षा अभियान में जिला परियोजना समन्वयक डॉ. आर.पी. चतुर्वेदी, नोडल अधिकारी नि:शक्तजन डॉ. रामनरेश पटेल, डाईट की प्राचार्य श्रीमती एस.बी. झा, श्री पवन जैन एवं तरूण दुबे भी मौजूद थे । इस अवसर पर बताया गया कि सर्वशिक्षा अभियान के तहत विकासखंड स्तर पर शिविर आयोजित कर कृत्रिम उपकरण प्रदान करने के लिए कक्षा एक से आठवीं तक के बच्चों को चिन्हित किया गया था । बताया गया कि कुल ऐसे 274 बच्चे जिले में चिन्हित किये गये हैं जिन्हें एलिम्को की सहायता से सहायक कृत्रिम उपकरणों का वितरण किया जा रहा है ।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x