लोकसभा में पेश हुआ बजट 2020, इनको मिली टेक्स से छूट, पढें पूरे बजट में क्या है

0
दिल्ली.जैसा की पहले से अनुमान लगाया जा रहा था की यह बजट मिडिल क्लास के लोगों के लिए राहत भरी खबर लेकर आएगा ऐसा ही हुआ, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण लोकसभा में बजट पेश कर रहीं हैं. वह बजट की कॉपी संसद में पढ़ रहीं हैं. बजट में आम आदमी को ध्‍यान में रखा गया है जिसकी उम्मीद की जा रही थी. 5 लाख तक की आय वालों को कोई टैक्स नहीं देना होगा.
प्रस्तावित टैक्स प्रस्ताव से मध्य वर्ग को भारी फायदा होगा. वित्त मंत्री ने कहा कि ये वैकल्पिक होगा, इसमें कोई डिडक्शन शामिल नहीं होगा, जो डिडक्शन लेना चाहते हैं वो पुरानी दरों से टैक्स दे सकते हैं. अपने संबोधन में निर्मला सीतारमण ने कहा कि हमारी सरकार की ओर से किसानों के लिए बड़ी योजनाओं को लागू किया गया है. सरकार की ओर से कृषि विकास योजना को लागू किया गया है. पीएम फसल बीमा योजना के तहत करोड़ों किसानों को फायदा पहुंचाया गया. सरकार का लक्ष्य किसानों की आय दोगुना करना है. किसानों की मार्केट को खोलने की जरूरत है, ताकि उनकी आय को बढ़ाया जाएगा. निर्मला ने कहा कि 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करनी है. ये है किसानों के लिए 16 सूत्रीय फॉर्मूला
  1. मॉर्डन एग्रीकल्चर लैंड एक्ट को राज्य सरकारों द्वारा लागू करवाना.
  2. 100 जिलों में पानी की व्यवस्था के लिए बड़ी योजना चलाई जाएगी, ताकि किसानों को पानी की दिक्कत ना आए.
  3. पीएम कुसूम स्कीम के जरिए किसानों के पंप को सोलर पंप से जोड़ा जाएगा. इसमें 20 लाख किसानों को योजना से जोड़ा जाएगा. इसके अलावा 15 लाख किसानों के ग्रिड पंप को भी सोलर से जोड़ा जाएगा.
  4. फर्टिलाइजर का बैलेंस इस्तेमाल करना, ताकि किसानों को फसल में फर्टिलाइजर के इस्तेमाल की जानकारी को बढ़ाया जा सके.
  5. देश में मौजूद वेयर हाउस, कोल्ड स्टोरेज को नबार्ड अपने अंडर में लेगा और नए तरीके से इसे डेवलेप किया जाएगा. देश में और भी वेयर हाउस, कोल्ड स्टोरेज बनाए जाएंगे. इसके लिए PPP मॉडल अपनाया जाएगा.
  6. महिला किसानों के लिए धन्य लक्ष्मी योजना का ऐलान किया, जिसके तहत बीज से जुड़ी योजनाओं में महिलाओं को मुख्य रूप से जोड़ा जाएगा.
  7. कृषि उड़ान योजना को शुरू किया जाएगा. इंटरनेशनल, नेशनल रूट पर इस योजना को शुरू किया जाएगा.
  8. दूध, मांस, मछली समेत खराब होने वाली योजनाओं के लिए रेल भी चलाई जाएगी.
  9. किसानों के अनुसार से एक जिले, एक प्रोडक्ट पर फोकस किया जाएगा.
  10. जैविक खेती के जरिए ऑनलाइन मार्केट को बढ़ाया जाएगा.
  11. किसान क्रेडिट कार्ड योजना को 2021 के लिए बढ़ाया जाएगा.
  12. दूध के प्रोडक्शन को दोगुना करने के लिए सरकार की ओर से योजना चलाई जाएगी.
  13. मनरेगा के अंदर चारागार को जोड़ दिया जाएगा.
  14. ब्लू इकॉनोमी के जरिए मछली पालन को बढ़ावा दिया जाएगा. फिश प्रोसेसिंग को बढ़ावा दिया जाएगा.
  15. किसानों को दी जाने वाली मदद को दीन दयाल योजना के तहत बढ़ाया जाएगा.
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि विदेशी सरकारों और अन्य विदेशी निवेश की सॉवरेन धन निधि के लिए टैक्स रियायत की घोषणा की गयी है. स्टार्टअप प्रणाली को बढ़ावा देने के लिए टैक्स में रियायत, लाभ की 100% कटौती के लिए कुल कारोबार की सीमा 25 करोड़ से बढ़ाकर 100 करोड़ किया जाएगा. वित्त मंत्री ने कहा कि निवेशकों को राहत प्रदान करने के लिए लाभांश वितरण टैक्स को हटाने का प्रस्ताव रखा गया है. निवेशकों को राहत प्रदान करने के लिए लाभांश वितरण टैक्स को हटाने का प्रस्ताव हम लेकर आये हैं. विद्युत क्षेत्र में निवेश के लिए नयी घरेलू कंपनियों को 15% रियायती कॉर्पोरेट टैक्स देने का प्रस्ताव है. उन्होंने कहा कि स्टार्टअप हमारी अर्थव्यवस्था के लिए विकास इंजन के रूप में उभरकर आए हैं. वित्त मंत्री ने कहा कि 5 से 7.5 लाख आमदनी वालों 10 प्रतिशत टैक्स. यह 20 प्रतिशत से घटाकर 10 प्रतिशत किया गया है. 10 से 12.5 लाख आमदनी वालों पर 20 प्रतिशत टैक्स. 15 लाख के ऊपर आमदनी वालों को 30 प्रतिशत टैक्स देना होगा. 5 लाख तक की आय वालों को कोई टैक्स नहीं देना होगा. प्रस्तावित टैक्स प्रस्ताव से मध्य वर्ग को भारी फायदा होगा. वित्त मंत्री ने कहा कि 10 प्रतिशत आर्थिक विकास दर हासिल करने का लक्ष्‍य सरकार का है. 2019-20 में कुल खर्च 26.99 लाख करोड़ रुपये है. वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार एलआइसी का अपना बड़ा हिस्सा बेचेगी. एलआइसी का आइपीओ सरकार लाएगी. 2019-20 बजट के बाद सरकार ने एनबीएफसी के लिए आंशिक ऋण गारंटी स्कीम तैयार की है.साभार पलपलइंडिया

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x