मेरिट-कम-मीन्स छात्रवृत्ति के लिए आवेदन आमंत्रित

0

जबलपुर : अल्पसंख्यक समुदाय के विद्यार्थियों को शैक्षणिक सत्र 2019-20 में अध्ययन करने के लिये मुस्लिम, ईसाई, बौद्ध, सिख, पारसी एवं जैन समुदायों के छात्र-छात्राओं से अल्पसंख्यक मेरिट-कम-मीन्स छात्रवृत्ति योजना के अंतर्गत तकनीकी एवं व्यवसायिक पाठ्यक्रमों में अध्ययनरत नवीन एवं नवीनीकरण विद्यार्थियों के लिये 31 अक्टूबर तक ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किया गया है ।
छात्रवृत्ति के आवेदन हेतु विद्यार्थी को भारत सरकार की नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल (एनएसपी) यूआरएल www.scholarships.gov.in पर भी जिसकी लिंक भारत सरकार की वेबसाइट www.minorityaffairs.gov.in पर भी उपलब्ध है । योजना से संबंधित विस्तृत दिशा-निर्देश एवं मानक संचालन प्रक्रिया नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर उपलब्ध है । छात्रवृत्ति हेतु केवल ऑनलाइन आवेदन ही स्वीकार किये जायेंगे, ऑफलाइन आवेदनों पर विचार नहीं किया जायेगा ।
छात्रवृत्ति के आवेदन ऑनलाइन भरते समय विद्यार्थियों द्वारा वेबसाइट के होम पेज पर उपलब्ध एफएक्यू पर विशेष ध्यान दिया जाये जिससे आवेदन भरते समय गलती न हो । विद्यार्थियों द्वारा 12 अंकों का आधार नंबर (ऐच्छिक) या 10 अंकों का आधार पंजीयन क्रमांक (EID) और अन्य पहचान संबंधी दस्तावेजों जिसमें विद्यार्थी की फोटोग्राफ हो की जानकारी भरी जाये । इसमें बैंक पासबुक फोटोग्राफ सहित राशन कार्ड, इन्कम टैक्स डिपार्टमेंट द्वारा जारी परमानेंट एकाउंट नंबर (पेन कार्ड), पासपोर्ट, स्कूल के हेडमास्टर या प्राचार्य द्वारा जारी एवं प्रमाणित विद्यार्थी का फोटोयुक्त आईडेन्टी कार्ड, ड्राइविंग लायसेंस शामिल है ।विद्यार्थियों द्वारा केवल स्वयं के नाम का बैंक खाता विवरण दिया जाए जो सक्रिय मोड में हो या बैंक के निर्देशों के अनुसार हो ताकि छात्रवृत्ति का भुगतान विफल न हो ।विद्यार्थियों द्वारा ऑनलाइन आवेदन भरने के पश्चात् भरे गये पूर्ण आवेदन का एक प्रिंटआउट अनिवार्य रूप से निकालकर अपने पास सुरक्षित रखा जाए ।
आवेदन पत्र की प्रत्येक कंडिकाओं की जानकारी पूर्ण नहीं देने एवं चाहे गये आवश्यक प्रमाण पत्र अपलोड नहीं करने पर छात्रवृत्ति की पात्रता नहीं होगी। प्रत्येक विद्यार्थी अपना एक ही आवेदन भरें, एक से अधिक बार आवेदन करने पर समस्त आवेदनों को निरस्त माना जायेगा।
नवीनीकरण के विद्यार्थी जिन्हें वित्तीय वर्ष 2018-19 में राशि प्राप्त हुई है द्वारा नवीनीकरण का आवेदन भरते समय गत वर्ष 2018-19 में प्रदत्त एप्लीकेशन आईडी का उपयोग करें ।
शैक्षणिक संस्था की यह जिम्मेदारी है कि वह आवेदक का ऑनलाइन आवेदन पूर्ण रूप से निरीक्षण और परीक्षण करने के उपरांत ही नियमानुसार पात्र विद्यार्थियों के आवेदन ऑनलाइन अपने सत्यापन उपरांत अग्रिम स्तर के लिये अंतिम तिथि 15 नवंबर तक फॉरवर्ड करें । यदि अधूरे आवेदन अग्रेषित किये जाते हैं तो उनके निरस्त होने की पूर्ण जवाबदारी संस्था की होगी ।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x