मदरसे का हाफिज निकला हैवान 12 वर्ष की बच्ची को बनाया हवस का शिकार

दिल्ली :देश के कोने -कोने से मासूम बच्चियों के साथ रेप की घटनाओं घटित होने की खबरें आ रही है जिसमें की एम के भोपाल ,उज्जैन ,जबलपुर ,के साथ उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में ढाई वर्षीय मासूम बच्ची ट्विंकल शर्मा के साथ उन्मादी दरिंदों द्वारा की गई हैवानियत तथा क्रूरतम ह्त्या के बाद पूरा देश आक्रोशित है, लेकिन इसके बाद भी मासूमों के साथ दरिंदगी की घटनाएँ रुकने का नाम नहीं ले रही हैं. देशभर के विभिन्न हिस्सों से मासूमों के साथ सिसिलेवार तरीके से हैवानियत की तमाम घटनाएँ सामने आई हैं. सुदर्शन न्यूज़ की खबर के अनुसार बाराबंकी, बरेली, मेरठ, हमीरपुर तथा कानपुर के बाद अब उत्तर प्रदेश के मेरठ से एक नाबालिग बच्ची के साथ बलात्कार का मामला सामने आया है जहाँ मदरसे के हाफिज ने मासूम के दरिंदगी की तथा उसके बचपन को अपने हवस की भूख में कुचल दिया.

बता दें कि मेरठ के थाना सरुरपुर के गांव खेड़ी कला में एक मदरसा है. इस मदरसे में शाहिद नाम का व्यक्ति टीचर है जो हाफिज भी है. आरोप है कि शाहिद ने गांव की ही एक 12 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म किया. इसके बाद उसने बच्ची को धमकी दी कि अगर उसने ये घटना किसी को बताई तो उसको जान से मार दिया जाएगा. घटना की जानकारी किसी तरह से बच्ची के परिजनों को लगी तो उनके पैरों तले से जमीन खिसक गई.

नाबालिग से बलात्कार की जानकारी मिलने के बाद गांव के लोगों का गुस्सा भड़क गया और उन्होंने शाहिद की पिटाई कर दी. लेकिन पिटाई के दौरान शाहिद गांववालों को चकमा देकर फरार हो गया. पीड़िता के परिजनों की शिकायत के आधार पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ पॉक्सो कानून और दुष्कर्म की धाराओं में मामला दर्ज करके उसे उस समय गिरफ्तार कर लिया जब वह मेरठ-करनाल हाईवे पर बस के इंतजार में था.

शेयर करें: