भाजपा के संकल्प पत्र की खास बातें फिर दुहराया राम मंदिर निर्माण का वादा

0

दिल्ली :एक बार फिर सत्ता में वापसी के लिए कड़ी मेहनत कर रही भाजपा ने सोमवार के दिन संकल्प पत्र जारी किया इस संकल्प पत्र के कुछ खास वादे जिनमें प्रमुख रूप से रखा गया वो है राष्ट्रवाद के प्रति हमारी पूरी प्रतिबद्धता है। आतंकवाद से कड़ाई से निपटना । किसी भी राज्य के लोगों की पहचान पर कोई आंच नहीं आने देंगे। देश की सुरक्षा पर समझौता नहीं करेंगे।
– राम मंदिर पर सभी संभावनाओं की तलाश करेंगे। प्रयास होगा कि जल्द से जल्द सौहर्द्रपूर्ण वातावरण में मंदिर का निर्माण होगा।किसान क्रेडिट कार्ड पर मिलने वाला एक लाखरुपये तक का लोन 5 साल तक ब्याज रहित रहेगा।
– सभी किसानों को होगा किसान सम्मान निधि का लाभ मिलेगा। छोटे और सीमांत किसानों को पेंशन की सुविधा दी जाएगी
– राष्ट्रीय व्यापार आयोग की मांग लंबे समय से की जा रही थी, जो बेहद इफेक्टिव आयोग होगा। छोटे दुकानदारों को 60 वर्ष के व्यपारियों को भी पेंशन दिया जाएगा। भारत में क्षेत्रीय असंतुलन को पूरी तरह से खत्म करेंगे। लैंड रिकॉर्ड का डिजिटाइजेशन किया जाएगा।
– जम्मू-कश्मीर से 35ए हटाने का प्रयास किया जाएगा।- मैंनेजमेंट, इंजीनियरिंग और लॉ कॉलेज सीटों की संख्या बढ़ाई जाएगी।
– 2020 तक देश की सभी रेल पटरियों का इलेक्ट्रिफिकेशन पूरा किया जाएगा।
– ट्रेंड डॉक्टर और जनता के बीच अनुपात को 1:1400 किया जाएगा।
– निर्यात को दोगुना करने की दिशा में कदम बढ़ाएंगे।
– प्रत्येक व्यक्ति को 5 किमी तक बैंक सुविधा देने की कोशिश किया जाएगा।
– तीन तलाक के विरूद्ध कानून बनाकर मुस्लिम महिलाओं को न्याय दिलाने का प्रयास करेंगे।
‘सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था बने’
इस दौरान वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा, ‘हमने 2014 के संकल्प पत्र को पूरा करने का प्रयास किया है। हमारा संकल्प पत्र ‘टुकड़े-टुकडे गैंग’ को प्रभावित करने के लिए नहीं है। 2014 में करप्शन का बोलबाला था। अनिणार्यक माहौल था और मजबूर सरकार थी। बीजेपी और हमारे उम्मीदवार नरेंद्र मोदी उम्मीद की तरह आए। आज माहौल बदल चुका है। हम डिलीवर करने वाली सरकार बने हैं। सायबर स्पेस से आउटर स्पेस तक हमने बढ़त बनाई है।’

उन्होंने कहा कि यह पहले 5 साल हैं जब देश दुनिया में सबसे तेजी से आगे बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बना। इतिहास में पहली सरकार हैं, जिसने गरीबी को सबसे तेजी से खत्म करने का काम किया है। पुरानी सरकारों ने सिर्फ नारे दिए। हमारी सरकार ने नतीजे दिए।
‘विदेशों में भारत का परचम’
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा, ‘हमारे शीर्षक और दूसरों के शीर्षक का अंतर समझें। आज हम घोषणा करने नहीं आए हैं, बल्कि संकल्प का भरोसा देने आए हैं। जब मैं कहती हूं कि हमने 34 करोड़ बैंक खाते खोले हैं तो लोग चौंक जाते हैं। पुरानी सरकार में 12 किमी हाइवे बनते थे इस सरकार में 29 किमी रोज बनते हैं। भारत की उपलब्धि के बारे में जानकर विदेश में लोग चौंक जाते हैं। विदेश के लोग शिक्षा और स्वास्थ्य के बारे में भी जानकर चौंक जाते हैं। फिलिस्तीन, सऊदी अरब, दक्षिण कोरिया, यूएई और संयुक्त राष्ट्र ने भी पीएम मोदी को सबसे बड़े सम्मानों से नवाजा है। पहली बार 57 इस्लामिक देशों के समूह में हम लोग मुख्य अतिथि बनाए गए हैं। हमने पाकिस्तान को उसके करीबी देशों के बीच अलग-थलग किया है। मैं आपसे कहना चाहती हूं कि हमारे संकल्प पत्र की तुलना बाकी पार्टियों के घोषणा पत्र से भी करें। हम मजबूत सरकार की वकालत कर रहे हैं, वे गठबंधन के नाम पर मजबूर सरकार की वकालत कर रहे हैं।’

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x