बन्ने नदी में जोरों पर अवैध उत्खनन कुम्भकर्णी नींद सो रहा प्रशासन

जबलपुर :जल के अभाव में सूख चुकी बन्ने नदी के स्वरूप के साथ छेड़छाड़ करते हुए रेत माफ़ियों द्वारा उसका सीना दिनरात छलनी किया जा रहा है सूत्रों की मानें तो कटरा खमरिया ,देवरी ,आलगोडा ,से निकलने वाली बन्ने नदी को खुर्द बुर्द कर रेत माफ़िया दिनरात रेत का अवैध तरीके से उत्खनन, परिवहन ,व स्टॉक किया जा रहा है लेकिन प्रशासन को फुर्सत ही नहीँ मिलती की इन रेत माफ़ियों पर नकेल कस सकें

जगह -जगह लगे है स्टॉक सो रहा प्रशासन

वहीँ सूत्र बताते है की रेत माफ़ियों द्वारा बन्ने नदी का सीना छलनी कर प्रतिदिन पचासों ट्रेक्टर रेत का अवैध तरह से उत्खनन कर स्टॉक और बिक्रय किया जा रहा है इस सबंध में जब स्थानीय लोगों द्वारा पुलिस प्रशासन की मदद ली जाती है तो पुलिस प्रशासन द्वारा कोई कार्यवाही नहीँ की जाती नतीजन आज बन्ने नदी के स्वरूप को बिगड़कर रेत माफ़िया रेत का धड़ल्ले से अवैध परिवहन व स्टॉक कर रहे है जिनपर कार्यवाही करने की फुर्सत प्रशासन को कब तक मिलेगी देखना होगा या यों ही कुम्भकर्णी नींद सोता रहेगा प्रशासन ?

इनका कहना है :जल्द ही रेत माफ़ियों पर कार्यवाही की जाएगी

सिहोरा एस डी एम, गौरव बैनल

शेयर करें: