फलों एवं सब्जियों में हानिकारक रसायनों का इस्तेमाल करने वाले व्यापारियों पर करें कार्यवाही, कलेक्टर भरत यादव

0

शासकीय भवनों में लगाएं रैनवाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम

फलों एवं सब्जियों में हानिकारक रसायनों का इस्तेमाल करने वाले व्यापारियों पर भी कार्यवाही करें

समय-सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक में कलेक्टर के निर्देश

जबलपुर :कलेक्टर श्री भरत यादव ने वर्षा जल से भू -जल संवर्धन के लिये सभी शासकीय भवनों में रूफ टॉप रेन वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं । आज सोमवार को समय सीमा प्रकरणों की साप्ताहिक समीक्षा बैठक को सम्बोधित करते हुए श्री यादव ने कहा कि शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित सभी शासकीय शालाओं, कॉलेजों तथा आंगनबाड़ी एवं कार्यालय भवनों में एक माह के भीतर रेन वॉटर सिस्टम को अपनाना होगा । उन्होंने कहा कि सरकारी विभागों को रेन वॉटर हार्वेस्टिंग लगाने में नगर निगम एवं ग्रामीण यांत्रिकी सेवा विभाग द्वारा तकनीकी सहायता उपलब्ध कराई जायेगी ।
कलेक्टर ने बैठक में खाद्य पदार्थों में मिलावट को रोकने की जा रही कार्यवाही की समीक्षा भी की। उन्होंने फलों को पकाने में केमिकल का इस्तेमाल करने वालों और सब्जियों में हानिकारक रंगों का उपयोग करने वालों पर भी छापामार कार्यवाही शुरू करने के निर्देश दिए हैं । श्री यादव ने कार्यवाही में जांच दलों के सहयोग करने नगर निगम का अमला समय पर उपलब्ध कराने के निर्देश नगर निगम आयुक्त को दिए हैं ।
समय सीमा बैठक के प्रारंभ में स्वतंत्रता दिवस के मुख्य समारोह की चल रही तैयारियों पर चर्चा की गई । कलेक्टर ने अधिकारियों को सभी तैयारियां समय पर पूरी करने के निर्देश दिए हैं । श्री यादव ने सीएम हेल्पलाईन से प्राप्त शिकायतों के निराकरण की समीक्षा भी की तथा मुख्यमंत्री जनकल्याण नया सवेरा (सम्बल ) योजना एवं भवन संनिर्माण कर्मकार मंडल के हितग्राहियों के सत्यापन की दिशा में हुई प्रगति का ब्यौरा लिया ।
कलेक्टर ने 20 वर्ष की सेवा अथवा 50 वर्ष की आयु पूरी कर चुके कर्मचारियों एवं अधिकारियों के अनिवार्य सेवानिवृत्ति के भेजे जाने वाले प्रस्तावों में केवल मेडिकल बोर्ड के चिकित्सा प्रमाण पत्र को ही आधार न बनाने के निर्देश जिला अधिकारियों को दिए हैं । उन्होंने कहा कि अनिवार्य सेवा निवृत्ति के प्रस्ताव में कर्मचारियों के रिकार्ड , अनियमितताओं के कारण की गई अनुशासनात्मक कार्यवाही पिछले पांच वर्षों की गोपनीय चरित्रावली को देखना भी जरुरी होगा । कलेक्टर ने न्यायालयीन प्रकरणों में समय पर जबाब प्रस्तुत करने तथा मजबूती से शासन का पक्ष रखने के निर्देश दिए । उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि न्यायालयीन प्रकरणों में यदि अधिकारी की लापरवाही या ढिलाई से शासन को नुकसान पहुंचता है तो प्रभारी अधिकारी के विरुद्ध कार्यवाही की जाएगी ।
श्री यादव ने सामाजिक सुरक्षा पेंशन के संभावित हितग्राहियों के सत्यापन के कार्य में हुई प्रगति की जानकारी भी ली । उन्होंने सत्यापन में पात्र पाए गए हितग्राहियों को शीघ्र पेंशन स्वीकृत करने के निर्देश दिए । श्री यादव ने बहु विकलांगता से पीड़ित एक बच्ची की पेंशन बंद होने की जनसुनवाई में मिली शिकायत का उल्लेख करते हुए कहा कि अधिकारियों को इस तरह के मामलों के प्रति ज्यादा सचेत रहना होगा और देखना होगा कि ऐसे मामलों में पेंशन बंद न हो ।
कलेक्टर ने विभागीय जॉच के प्रकरणों में बरती जा रही ढिलाई पर नाराजगी व्यक्त की । उन्होंने सहायक पंजीयक सहकारिता को लम्बित मामलों में विभागीय जांच की कार्यवाही एक सप्ताह के भीतर पूरी करने की हिदायत दी । उन्होंने कहा कि जरूरत हो तो विभागीय जांच के मामलों में एक पक्षीय कार्यवाही की जाए । विभागीय जांच के मामले लम्बित रहने पर अब जांच अधिकारी के विरुद्ध कार्यवाही की चेतावनी भी श्री यादव ने दी ।

फील्ड पर दिखे कृषि, सिंचाई एवं पीएचई विभाग का अमला

कलेक्टर ने बैठक में किसानों एवं ग्रामीणों से मिल रही शिकायतों के मद्देनजर कृषि, सिंचाई, एनव्हीडीए एवं पीएचई के अधिकारियों को नियमित तौर पर ग्रामीण क्षेत्रों का भ्रमण करने के निर्देश दिए। उन्होंने इन विभागों के अधिकारियों से कहा जिन अधिकारियों पर योजनाओं एवं कार्यक्रमों की मॉनीटरिंग करने की जिम्मेदारी है वे विभागीय कार्यों की मॉनीटरिंग करने ग्रामीण क्षेत्रों का लगातार भ्रमण करें तथा जिनका काम मैदानी स्तर पर योजनाओं का क्रियान्वयन करना है और किसानों की समस्याओं को दूर करना है उन्हें फील्ड पर ही रहना होगा।
कलेक्टर ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत पात्र किसानों के सत्यापन एवं पोर्टल पर किसान परिवारों की जानकारी अपलोड करने के काम की धीमी गति पर अप्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को इस कार्य में तेजी लाने के निर्देश देते हुए पटवारियों के कामकाज पर निगरानी रखने के निर्देश दिए।
श्री यादव ने अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत दर्ज प्रकरणों में पीड़ित व्यक्ति का जाति प्रमाण पत्र जारी करने में तत्परता बरतने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने राजस्व वसूली में भी तेजी लाने के निर्देश देते हुए कहा कि अपेक्षित प्रगति नहीं दिखाई देने पर संबंधित एसडीएम को नोटिस जारी किए जाएंगे। श्री यादव ने ज्ञात-अज्ञात वाहनों से हुई दुर्घटना में मृत व्यक्ति के परिवारजनों को सोलेशियम योजना का लाभ दिलाने की हिदायत अनुविभागीय अधिकारियों को दी।
उन्होंने नवम्बर अथवा दिसम्बर माह में जिला स्तर पर आयोजित किए जाने वाले दिव्यांगों के सामूहिक विवाह सम्मेलन की तैयारियां अभी से प्रारंभ करने पर जोर दिया। कलेक्टर ने कहा कि सामूहिक विवाह सम्मेलन के साथ-साथ दिव्यांगों के लिए स्वास्थ्य परीक्षण शिविर तथा स्वरोजगार एवं रोजगार मेले का आयोजन भी किया जाएगा। वृद्धजन भरण पोषण अधिनियम के तहत प्राप्त होने वाले आवेदनों पर भी प्रभावी कार्यवाही के निर्देश अनुविभागीय दण्डाधिकारियों को कलेक्टर द्वारा दिए गए।
बैठक में जिला पंचायत के सीईओ प्रियंक मिश्र, नगर निगम आयुक्त आशीष कुमार भी मौजूद थी । बैठक के समापन पर पिछले एक सप्ताह के दौरान सीएम हैल्पलाइन में प्राप्त शिकायतों के निराकरण में अच्छा परफार्मेंस देने वाले अधिकारियों को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित भी किया गया।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x