प्रशासन बिना आदेश के उजाड़ रहा था गरीबों का आशियाना फिर हुआ जमकर हंगामा

कहीँ का बेदखली आदेश और दूसरी जगह गरीबों के मकान तुड़वा रहा था प्रशासन उल्टे पैर लौटना पड़ा

जबलपुर :गोसलपुर में शुक्रवार को उस समय हंगामा खड़ा हो गया जब अतिक्रमण हटाने गए प्रशासन से जनता ने आदेश की कॉपी मांगी आनाकानी करते हुए जब प्रशासन ने आदेश की कॉपी दिखाई तो सबके होस उड़ गए आदेश में साफ तौर पर लिखा था की खसरा नंबर 85 में हुए अतिक्रमण हटाये जाए जबकि प्रशासन द्वारा खसरा नंबर 81 /1 में बनाए गए आवासों को तोड़ा जा रहा था यह कार्यवाही सिहोरा तहसीलदार ललित गवालवंशी व सिहोरा एसडीओपी भावना मरावी के निर्देशन में हो रही थी जिसमें गोसलपुर ,सिहोरा ,खितौला ,मझगवां ,मंझोली टी आई सहित पूरा दल बल मौजूद था प्रशासनिक अमले को तीन मकान तोड़ने थे जिसमे जे सी बी द्वारा सबसे पहले रसीद के बिना छप्पर वाली चार दिवालो को धरासाई कर दिया गया उसके बाद राजेश पटेल के पक्के आवास की पीछे की दीवाल जे सी बी से तोड़नी सुरु कर दी थी जिसमें दीवाल का पीछे का हिस्सा पूरी तरह तोड़ दिया गया अब अंदर की दीवाल तोड़ने की कार्यवाही चल रही थी की जिला पंचायत सदस्य बंदना पटेल ने आदेश की कॉपी को लेकर हंगामा खड़ा कर दिया पुलिस प्रशासन के खिलाप जमकर नारेबाजी की गई तनाव बढ़ता देख प्रशासनिक अमला पीछे हट गया हलाकि इस बात की शिकायत बंदना पटेल व ग्रामीणों द्वारा जिला कलेक्टर व एसपी के यहाँ करने की भी बात की जा रही थी

शेयर करें: