प्रशासनिक फरमान के आगे किसानों ने घुटने टेके अब किसानों की कोई सुनने वाला नहीँ

हरगढ़ साइड बैग लेकर पहुंचे अपना अनाज

किसानों ने लगाया विलम्ब से सूचना देने का आरोप।

गाँधीग्राम-बुढागर गेंहूँ खरीदी केंद्र जो कि गोसलपुर स्टेडियम में चल रहा था उक्त खरीदी केंद्र के गेहूं की खरीदी के साइलो बैग हरगढ़ में होने के प्रशासनिक फरमान के आगे किसानों ने घुटने टेक दिए और मंगलवार शाम तक लगभग 90 प्रतिशत किसान टेक्टर ट्रालियों में भरकर हरगढ़ स्थित सायलो बैग ले गए।बताया जाता है कि लगभग 10 किसानों का अनाज अभी खरीदी केन्द्र बुढागर के स्टेडियम गोसलपुर में अभी पड़ा हुआ है।
किसानों का आरोप है कि खरीदी केन्द्र प्रभारी ने 14 तारीख से गेहूँ की खरीदी हरगढ़ के सायलोबैग में करने के आदेश को दबाय रखा।उक्त बात की जानकारी की सूचना विलंब से देने का आरोप स्थानीय किसानों द्वारा बुढागर खरीदी केन्द्र प्रभारी पर लगाया है किसानों का आरोप है कि लगभग 15 दिनों से खरीदी केंद्र में बारदाना भी नहीं था तब तक खरीदी केंद्र प्रभारी द्वारा किसानों को यही ढांढस दिलाया जाता रहा है कि बारदाना शीघ्र आने वाला है आप लोगों के रखे हुए अनाज की तूलाई होगी ।किंतु खरीदी केंद्र प्रभारी द्वारा आनन फानन में उक्त आदेश को किसानों को बताया गया कि अब खरीद यहां नहीं होगी अब हरगढ़ सायलो बैग ले जाये किसानों को जब वक्त आदेश के बारे में जानकारी लगी तो किसानों को बड़ा आश्चर्य हुआ और क्रोध भी आया उन्होंने कहा कि हमारा गेहूं लगभग 15 दिवसों से यहां पड़ा हुआ है हम किसानों ने एक बार परिवहन का खर्चा झेल चुके हैं इसके बाद यदि हम अपने अनाज को पुनः खरीदी केन्द्र से हरगढ़ स्थित साइलो बैग केंद्र में ले जाते हैं तो फिर से परिवहन का खर्च वहन करना पड़ेगा इसकी भरपाई कौन करेगा।

*जानकारी अनुसार अधिकांश किसानों ने अपना अनाज विक्रय हेतु हरगढ़ सायलोबैग ले गए हैं कुछ शेष किसानों का गेहूँ आज भी खरीदी केन्द्र बुढागर के गोसलपुर खेल मैदान में रखा है।

शेयर करें: