प्रभारी मंत्री की अध्यक्षता में ये महत्वपूर्ण प्रस्ताव हुए पारित

0

प्रभारी मंत्री की अध्यक्षता में जिला योजना समिति की बैठक संपन्न

भेड़ाघाट को वर्ल्ड हेरिटेज घोषित कराने प्रस्ताव पारित

बरगी बांध में वृंदावन गार्डन की तर्ज पर उद्यान बनाने का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजने का निर्णय

जबलपुर :जिला योजना समिति की बैठक में निर्णय लिया गया कि भेड़ाघाट को वर्ल्ड हेरिटेज साइट घोषित करने का प्रस्ताव राज्य और केन्द्र सरकार को भेजा जाएगा। जबलपुर को सुव्यवस्थित और विकसित महानगर बनाने के लिए सभी प्रयास किए जाएंगे। वर्षाकाल के बाद प्राय: फैलने वाली मौसमी बीमारियों, डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया, स्वाइनफ्लू आदि बीमारियों से बचाव के लिए लोक स्वास्थ्य, नगर निगम और संबंधित विभागों द्वारा समन्वित प्रभावी उपाय सुनिश्चित किए जाएंगे। योजना समिति की बैठक की अध्यक्षता ऊर्जा मंत्री और जबलपुर जिले के प्रभारी मंत्री प्रियव्रत सिंह ने की। इस अवसर पर सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण मंत्री लखन घनघोरिया, विधायक विनय सक्सेना, विधायक एवं पूर्व मंत्री अजय विश्नोई, विधायक संजय यादव, विधायक नंदिनी मरावी, विधायक सुशील तिवारी इंदु, विधायक अशोक रोहाणी, कलेक्टर भरत यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष मनोरमा पटेल, पुलिस अधीक्षक अमित सिंह, जगत बहादुर सिंह अन्नू, सौरभ नाटी शर्मा, नगर निगम आयुक्त, योजना समिति के सदस्यगण, जिला प्रमुख अधिकारी, जनप्रतिनिधि मौजूद थे।जिला योजना समिति की बैठक में मंत्री लखन घनघोरिया ने बारिश के मौसम में शहर में कई स्थानों पर जलप्लावन की स्थिति पर चिंता व्यक्त करते हुए इस समस्या के स्थाई निराकरण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सीवर सिस्टम तथा शहर में जल निकासी सिस्टम को बेहतर बनाने के लिए विशेषज्ञों की राय लेकर नालों में तथा उनके दोनों किनारे पर आवश्यक सुधार कार्य कराए जाएं। उन्होंने कहा कि जल निकासी के अवरोधों को तोड़ा जाए। सीवर के पानी की निकासी व्यवस्थित की जाए। मंत्री श्री घनघोरिया ने नगर के वार्डों में पेयजल आपूर्ति की समस्या का निराकरण करने के निर्देश दिए। प्रभारी मंत्री श्री सिंह ने शहर में पेयजल व्यवस्था को सुधार कर बेहतर बनाने नगर निगम अधिकारियों को निर्देशित किया। पुरानी टंकियों की मरम्मत के साथ नई बनी पानी टंकियों को पाइप लाइन से जोड़ने, क्षतिग्रस्त पाइप लाइनों को बदलने, शहर में पानी देने के लिए नलकूपों को अस्थाई बिजली कनेक्शन से जोड़ने के निर्देश दिए गए।बैठक में निर्णय लिया गया कि जलप्लावन और सीवर जल निकासी के संबंध में नगर निगम के साथ विस्तृत बैठक में चर्चा होगी। बताया गया कि शहर के जलप्लावन से प्रभावित क्षेत्रों का सर्वे कर लिया गया है। प्रभावित परिवारों को राहत सहायता देने के संबंध में चर्चा की गई। यह पूरी जानकारी जनप्रतिनिधियों के संज्ञान में लाई जाएगी।
मंत्री लखन घनघोरिया ने कहा कि अतिक्रमण से हटाए गए परिवारों के पुनर्वास के लिए गंभीर प्रयास किए जाएं।

आवारा सुअरों पर कसेगी नकेल

प्रभारी मंत्री श्री सिंह ने कहा कि आवारा सुअर तथा पालतू सुअर शहर के अंदर नहीं रहें। इन्हें घनी बस्तियों, आंगनबाड़ियों, शालाओं के आसपास से निकाल कर शहर के बाहर स्थान उपलब्ध कराकर रखा जाए। इसके लिए टॉस्क फोर्स गठित की जाए। सुअर पालकों से चर्चा की जाए। पुलिस की मदद भी ली जा सकती है।बैठक में चार से पांच हजार पशुओं की गौशाला निर्माण पर भी विचार हुआ तथा कार्ययोजना तैयार कर शासन को भेजने प्रस्ताव पारित किया गया। आवारा कुत्तों पर नियंत्रण के लिए ठोस उपाय करने की बात कही गई।
बैठक में बताया गया कि स्वाइन फ्लू के इलाज के लिए मेडिकल कालेज चिकित्सालय और विक्टोरिया जिला चिकित्सालय के साथ-साथ सात निजी चिकित्सालयों में भी आइसोलेशन वार्ड है। इन निजी चिकित्सालयों से आमजन को अवगत कराने के निर्देश दिए गए। बैठक में कहा गया निजी चिकित्सालय स्वाइन फ्लू पीड़ित मरीज के इलाज में पूरा सहयोग करें। जो चिकित्सालय सहयोग नहीं करें उनके विरूद्ध कार्रवाई की जाए। मरीज कहां शिकायत करें इसके लिए दूरभाष नंबर प्रचार-प्रसार के माध्यम से अवगत कराया जाए। शहर में पूर्व से स्थापित मोहल्ला क्लीनिकों की मॉनीटरिंग, इनमें सीसीटीव्ही कैमरे स्थापित करने के निर्देश दिए गए। ग्रामीण क्षेत्रों में जरूरत के मुताबिक चिकित्सकों की पदस्थापना के प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए गए।
प्रभारी मंत्री श्री सिंह ने मिलावट, दूषित खाद्य पदार्थ विक्रय के विरूद्ध व्यापक अभियान की सराहना करते हुए कहा कि इस अभियान को लगातार जारी रख प्रभावी कार्रवाई की जाए। विधायक अजय विश्नोई ने भी शासन के इस अभियान की तारीफ की। प्रभारी मंत्री श्री सिंह ने कहा कि दूध उत्पादन बढ़ाने आक्सीटोसिन इंजेक्शन के उपयोग को रोकने सख्त कदम उठाए जाएं। आक्सीटोसिन की आपूर्ति करने वालों तथा उपयोग करने वालों पर कार्रवाई की जाए। कलेक्टर ने अब तक की गई कार्रवाई का ब्यौरा प्रस्तुत किया। बताया कि कई प्रकरणों में एफआईआर की गई है। नकली घी, पनीर के बड़े मामले पकड़े गए हैं। नकली पनीर के एक प्रकरण में रासुका तहत कार्रवाई की जा रही है। सरकार के इस अभियान को व्यापक बनाने जबलपुर में एक प्रयोगशाला स्वीकृत की गई है। डुमना एयरपोर्ट के समीप भूमि भी चिन्हित कर ली गई है। प्रभारी मंत्री ने मसालों में होने वाली मिलावट के विरूद्ध भी सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए।
बैठक में निर्णय लिया गया कि सुपर मार्केट में अगले माह के अंत तक रात्रिकालीन बाजार शुरू किया जाएगा। इससे बड़ी संख्या में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। स्थानीय व्यापारियों के सहयोग से यह व्यवस्था बनाई जाएगी। प्रभारी मंत्री ने अवैध शराब कारोबार पर कड़ाई से रोक लगाने की हिदायत दी। उन्होंने अभी तक की गई कार्रवाई को नाकाफी बताते हुए इसमें और तेजी लाने की बात कही । श्री सिंह ने आबकारी नियमों के उल्लंघन के मामलों में भी कठोर कार्रवाई के निर्देश दिए। इस अवसर पर बताया गया कि जबलपुर में जल्दी ही मेंटल हेल्थ केयर सेंटर और नशामुक्ति केन्द्र की स्थापना होगी।
बैठक में प्रभारी मंत्री ने विद्युत विभाग के अधिकारियों को 15 सितम्बर से 15 अक्टूबर तक प्रत्येक वितरण केन्द्र एवं जोन में तीन-तीन शिविर लगाने तथा इसका प्रचार-प्रसार उपभोक्ताओं के मध्य करने के निर्देश दिए गए। इंदिरा गृह ज्योति योजना की पूरी जानकारी देने फ्लेक्स प्रदर्शित करने तथा शिविरों में जानकारी देने निर्देशित किया गया। प्रभारी मंत्री ने कहा कि शिविर के शेड्यूल से सभी जनप्रतिनिधियों को अवगत कराया जाए तथा उन्हें आमंत्रित किया जाए। शिविर में विद्युत बिलों की विसंगति को दूर किया जाए।
बैठक में जिला चिकित्सालय विक्टोरिया की मरचुरी में मिली लावारिस लाश के मामले पर चर्चा हुई। सीएमओ को निर्देश दिए गए कि मरचुरी के प्रभारी अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई प्रस्तावित की जाए। कृषि की समीक्षा के दौरान रबी सीजन के मद्देनजर खाद, बीज की पर्याप्त उपलब्धता तथा किसानों को अग्रिम उठाव वितरण के निर्देश दिए गए।
प्रभारी मंत्री श्री सिंह ने कहा कि आपकी सरकार आपके द्वार योजना को अधिक प्रभावी बनाया जाएगा। उन्होंने निर्देश दिए कि आवेदनों का समय-सीमा में निराकरण कर पूरा ब्यौरा जिला योजना समिति की बैठक में रखा जाए। अवैध रेत उत्खनन को रोकने के निर्देश दिए गए। बताया गया कि कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक संयुक्त रूप से दौरा कर कार्रवाई की समीक्षा सतत रूप से करेंगे।
बैठक में बरगी बांध के समीप वृंदावन गार्डन की तर्ज पर उद्यान विकसित करने का प्रस्ताव केन्द्र शासन को भेजने का निर्णय लिया गया। बताया गया कि इस उद्यान के लिए डीपीआर तैयार कर ली गई है। इस पर करीब 300 करोड़ की लागत आना अनुमानित किया गया है। इसे स्वीकृति के लिए केन्द्र शासन को भेजा जाएगा। बैठक में ग्राम कैलवास स्थित शासकीय शाला का नामकरण स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व. छेदीलाल उसरेठे के नाम पर करने का प्रस्ताव पारित कर शासन को भेजा जा रहा है। मंत्री श्री घनघोरिया द्वारा प्रस्तुत प्रस्ताव शहर के अम्बेडकर चौराहे से रद्दी चौकी तक फ्लाई ओवर की आवश्यकता रेखांकित करते हुए निर्माण कराने का प्रस्ताव पारित कर शासन को भेजा जा रहा है। बैठक में भेड़ाघाट में मकानों के जीर्णोद्धार के कार्य को वर्ष 2008 के मास्टर प्लान में नर्मदा नदी के तीन सौ मीटर के दायरे निर्माण कार्यों पर लगाई गई रोक से छूट दिलाने का प्रस्ताव भी पारित किया गया। इस प्रस्ताव को नगर एवं ग्राम निवेश विभाग, भोपाल को स्वीकृति हेतु भोपाल भेजे जाने का निर्णय बैठक में लिया गया। नगर स्थित सभी शासकीय सामुदायिक भवनों का संचालन पूर्ण रूप से नगर निगम द्वारा सुनिश्चित करने निर्देश दिए दिए गए।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x