पत्नी को परेसान करने वाले बन्नी पाजी को दिनदहाड़े मार दी गोली

0

जबलपुर :शहर में दिनदहाड़े हुए गोलीकांड से क्षेत्र में दहसत का माहौल हो गया पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक गोरखपुर थाना अन्तर्गत दिनॉक 28-12-19 को दोपहर 2-30 बजे जगतमॉल के सामने गोली चलने की सूचना पर थाना प्रभारी गोरखपुर श्री उमेश तिवारी हमराह स्टाफ के पहुंचे, ज्ञात हुआ कि बन्नी पाजी उर्फ करमजीत सिंह उम्र 45 वर्ष को गोली लगने के कारण उपचार हेतु जबलपुर अस्पताल ले जाया गया है, जबलपुर अस्पताल पहुंचने पर ज्ञात हुआ कि बन्नी पाजी को परीक्षण उपरांत मृत घोषित कर दिया गया हैं । बन्नी पाजी के गले एवं पेट मे गोली मारी गयी थी, घटित हुई घटना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया, सूचना पर पहुंची एफएसएल टीम की उपस्थिति में पंचनामा कार्यवाही कर शव को पीएम हेतु भिजवाते हुये घटना स्थल जगतमाNल के सामने चाय की दुकान लगाने वाले रानू उर्फ राजेन्द्र जैसवाल उम्र 35 वर्ष निवासी अहीर मोहल्ला गोरखपुर से पूछताछ की गयी तो रानू जैसवाल ने बताया कि दोपहर लगभग 2-15 बजे बन्नी पाजी अपने कुछ परिचितों के साथ उसकी दुकान के सामने बैठे हुये थे, तभी हाथीताल कालोनी निवासी मनप्रीत सिंह एक 17 वर्षिय लडके के साथ मोटर सायकिल मे बैठकर आया, लडके के द्वारा उसके दुकान के सामने मोटर सायकिल रोक दी गयी, उसी समय मनप्रीत सिंह मोटर सायकिल से उतरा और सीधे कुर्सी मे बैठे बन्नी पाजी के सामने पहुंचा और पास से 2 फायर कर मोटर सायकिल मे बैठकर लड़के साथ भाग गया। रानू उर्फ राजेन्द्र जैसवाल की रिपोर्ट पर धारा 302,34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर प्रकरण विवेचना में लिया गया।

एसपी के आदेश पर हुई कार्यवाही

वहीं घटना के बाद पुलिस अधीक्षक जबलपुर अमित सिंह (भा.पु.से.) द्वारा घटना को गम्भीरता से लेते हुये आरोपी की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु आदेशित किये जाने पर अति. पुलिस अधीक्षक शहर दक्षिण डॉ संजीव उइके, एवं अति. पुलिस अधीक्षक अपराध श्री शिवेश सिंह बघेल तथा नगर पुलिस अधीक्षक गोरखपुर श्री आलोक शर्मा के मार्गर्दशन मे थाना प्रभारी गोरखपुर नेतृत्व में टीम गठित कर लगायी गयी। एस.टी.एफ. की टीम भी घटना की जानकारी लगने पर लगी हुई थी,। विश्वसनीय मुखबिर की सूचना पर घेराबंदी कर एस.टी.एफ. की टीम एवं गोरखपुर पुलिस के द्वारा मनप्रीत सिंह उम्र 33 वर्ष निवासी हाथीताल कालोनी एवं 17 वर्षिय किशोर जो कि दरहाई कोतवाली मे रहता है, को घेराबंदी कर पकडा गया, पूछताछ पर मनप्रीत सिंह ने बताया कि बन्नी पाजी पिछले 1 साल से उसकी पत्नि को परेशान कर रहा था, समझाने पर मान नहीं रहा था। मृतक बन्नी पाजी प्रापर्टी का काम करता था, जिसके विरूद्ध थाना गोरखपुर, ग्वारीघाट, कैंट, सिविल लाईन में 7 प्रकरण हत्या का प्रयास, लूट, आर्म्स एक्ट, मारपीट के पंजीबद्ध होकर न्यायालय मे विचाराधीन है। घटना स्थल से चले हुये कारतूस के 2 खोखे, मनप्रीत सिंह की निशादेही पर घटना में प्रयुक्त देशी पिस्टल, 6 जिंदा कारतूस, जप्त किये गये है, उक्त पिस्टल कहॉ से और कैसे प्राप्त की के सम्बंध मे पूछताछ की जा रही है। आरोपी एवं किशोर की गिरफ्तारी में थाना प्रभारी गोरखपुर श्री उमेश तिवारी, एस.टी.एफ. निरीक्षक श्री गणेश सिंह ठाकुर, स.उ.नि. निसार अली, आरक्षक मनोज पाण्डे, निर्मल सिंह, विनोद पटेल, मनीष तिवारी, हर्षवर्धन तिवारी, प्रवीण बावरिया, नीलेश दुबे थाना गोरखपुर के सहायक उप निरीक्षक बी.आर. ठाकुर, रमाकांत द्विवेदी की सराहनीय भूमिका रही।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x