दूध डेयरियों पर कार्यवाही जारी आज पांच डेयरियों की आकस्मिक जांच की गई

जबलपुर, जिला प्रशासन की दूध डेयरियों के आकस्मिक जांच की मुहिम आज रविवार को भी जारी रही । रविवार को एसडीएम गोरखपुर मनीषा वास्कले के नेतृत्व वाले जांच दल में जहां जिलहरी, ललपुर और ग्वारीघाट स्थित तीन डेयरियों की आकस्मिक जांच की गई वहीं एसडीएम रांझी जे.पी. यादव के नेतृत्व में गठित दल ने तिलहरी-कटियाघाट की दो डेयरियों का औचक निरीक्षण किया । एसडीएम गोरखपुर मनीषा वास्कले के मुताबिक जिलहरी स्थित चौहान डेयरी की आकस्मिक जांच के दौरान भैंसों को दिये जाने वाली चोकर में केमिकल मिलाया जा रहा था । उन्होंने बताया कि डेयरी संचालक से इस मामले में स्पष्टीकरण तलब किया गया है । एसडीएम गोरखपुर के मुताबिक चौहान डेयरी के अलावा आज ललपुर स्थित बबलू यादव डेयरी और ग्वारीघाट स्थित रामेश्वर पटेल डेयरी की भी आकस्मिक जांच की गई । चौहान डेयरी सहित तीनों डेयरी संचालकों को मनमाने तरीके से दूध के दाम बढ़ाने पर पब्लिक न्यूसेंस पैदा करने का नोटिस दिया गया है । इसके अलावा गंदगी पाये जाने पर तीनों डेयरियों पर नगर निगम एक्ट के तहत 30-30 हजार रूपये का अर्थदंड अधिरोपित किया गया है । एसडीएम रांझी जे.पी. यादव ने कलेक्टर श्रीमती छवि भारद्वाज के निर्देश पर दूध डेयरियों की आकस्मिक जांच की कार्यवाही के तहत आज तिलहरी और कटियाघाट स्थित महाकाली डेयरी एवं राजू डेयरी का औचक निरीक्षण किया गया । उन्होंने बताया कि दोनों डेयरियों से दूध के सेम्पल लिये गये हैं । इसके साथ ही इन्हें पब्लिक न्यूसेंस पैदा करने और उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम के तहत भी नोटिस जारी किये गये हैं । इधर एसडीएम अधारताल आशीष पांडे के मुताबिक आज विजय नगर-दमोह नाका क्षेत्र में दूध डेयरियों के छह वितरण केन्द्रों का आकस्मिक निरीक्षण किया गया । इसमें वासू डेयरी में पनीर एवं घी में कीड़े लगे पाये जाने पर तत्काल इन्हें नष्ट कराया गया । साथ ही इसके नमूने भी लिये गये । उन्होंने बताया कि बलहारा डेयरी, कृष्णा डेयरी, अंगद डेयरी, समैया डेयरी एवं मालगुजार डेयरी के वितरण केन्द्रों का भी आज आकस्मिक निरीक्षण किया गया । इस दौरान पालीथिन की थैलियां इन डेयरियों से जप्त की गई । सभी डेयरियों से दूध के नमूने भी लिए गये तथा अचानक की गई मूल्य वृद्धि के लिए इन्हें नोटिस भी जारी किये गये हैं ।
शेयर करें: