दिव्यांजनों को कृत्रिम अंग मुहैया कराने आयोजित शिविर का समापन आज 

जबलपुर,उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधिपति एवं मुख्य संरक्षक, म.प्र. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण न्यायमूर्ति एस.के. सेठ के निर्देशन तथा न्यायमूर्ति श्री एच.जी. रमेश, प्रशासनिक न्यायाधिपति, म.प्र. उच्च न्यायालय एवं कार्यपालक अध्यक्ष, म.प्र. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, के कुशल मार्गदर्शन में भगवान महावीर विकलांग सहायता समिति जयपुर, (जयपुर फुट), मध्यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण एवं नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कॉलेज के संयुक्त प्रयासों से 26 मार्च से शुरू विशेष वृहद् मेडिकल शिविर का आज समापन होगा इस केन्द्र पर कृत्रिम अंग उपलब्धता के व्यापक प्रचार-प्रसार से प्रतिदिन बहुत बडी संख्या में दिव्यांगजन इस केन्द्र पर पहुंच रहे है। भगवान महावीर विकलांग सहायता समिति जयपुर, (जयपुर फुट) एवं नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कॉलेज, जबलपुर द्वारा स्थापित स्थायी केन्द्र इस क्षेत्र के लिये वरदान स्वरूप है। इस स्थायी केन्द्र से दूरस्थ क्षेत्रों के व्यक्तियों को भी लाभ मिलेगा। शनिवार 30 मार्च को शिविर का समापन है, लेकिन शिविर समापन के पश्चात् भी इस स्थायी केन्द्र में निरंतर निःशुल्क सेवा प्रदान की जाती रहेगी। शुक्रवार को शिविर आयोजन के दौरान 257 दिव्यांगजनों को लाभांवित किया गया। इसमें 25 कृत्रिम पैर, 18 कैलिपर्स, 6 कृत्रिम हाथ, 78 श्रवण अंग, 48 ट्रायसाईकल, 55 व्हीलचेयर, 32 बैसाखियां, 5 स्टिक एवं अन्य उपकरण प्रदान किये गये। अमनीश वर्मा, सदस्य सचिव, म.प्र. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, जबलपुर द्वारा दिव्यांगजनों से अपील की गई है कि वे अधिक से अधिक संख्या में शिविर में भाग लेकर लाभांवित हों।

शेयर करें: