एसआई पर कार चढ़ाने वाले आरोपी का पुलिस ने निकाला जलूस

0

जबलपुर :शासकीय कार्य में व्यवधान उत्पन्न कर ड्यूटी के दौरान एसआई पर कार चढाने का प्रयास करने वाले कार चालक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है,

पुलिस ने निकाला जलूस

थाना प्रभारी केैण्ट विजय तिवारी ने बताया कि दिनंाक 26-10-2020 को थाना कैंट मे पदस्थ उप निरीक्षक गौरीशंकर यादव  टीआई क्रासिंग पर आरक्षक दिनेश एवं विष्णु के साथ कानून एवं यातायात व्यवस्था हेतु  डियूटी पर थे, रात्रि लगभग 1 बजे एक चार पहिया सफेद रंग की गाड़ी रांग साईड से आयी जो यातायात को बाधित कर रही थी, वाहन चालक को समझाया गया, समझाइस के दौरान वाहन के नम्बर एवं वाहन तथा  वाहन चालक के फोटो मोबाइल से खींचते हुये कार केा पार्किंग में लगाने को कहने पर वाहन चालक द्वारा  वाहन पार्क न करते हुये उप निरीक्षक गोैरीशंकर यादव केे साथ धक्का मुक्की कर उपहति कारित करने के उद्देश्य से शासकीय कार्य में बाधा डालते हुये, कार क्रमांक एमपी 17 सीए 5040 के चालक ने अपनी कार तेज गति एवं लापरवाही से चलाते हुये उप निरीक्षक के ऊपर चढ़ाने का प्रयास किया, उप निरीक्षक ने आत्मरक्षा में कार का बोनट पकड़ लिया , कार न रूकने एवं तेजी से आगे बढाने पर उप निरीक्षक बोनट पर आत्मरक्षार्थ चढ गया तो कार चालक  जानबूझकर लापरवाही से तेज गति से चलाते हुये यादगार चैक की तरफ ले गया एवं यादगार चैक पर गिराने के आशय से बे्रक लगा दिया जिससे उप निरीक्षक गौरशंकर यादव गिर गय़े, जिससे उनके कंधे में चोट आ गयी,  कार चालक कार को तेज गति से  गन तिराहे की तरफ भाग गया। उप निरीक्षक गौरी शंकर यादव की रिपोर्ट पर धारा 279, 337, 332, 353, 307 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर  प्रकरण विवेचना में लिया गया। घटित हुई घटना की जानकारी लगते ही पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से) द्वारा आरोपी की सरगर्मी से तलाश कर गिरफ्तारी किये जाने हेतु आदेशित किये जाने पर पतासाजी करते हुये प्रेमनगर मदनमहल निवासी जसप्रीत सिंह उर्फ जाॅली पिता चरणदीप सिंह उम्र 28 वर्ष जो कि होटल मैनेजमेंट का कार्य करता है को गिरफ्तार कर घटना में प्रयुक्त कार जप्त करते हुये न्यायिक अभिरक्षा मे जेल भेज दिया गया है। 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x