जिला स्तर पर विकेन्द्रीकृत होगी एसएमएस व्यवस्था

मुख्य सचिव श्री मोहन्ती ने वी.सी. से की गेहूँ उपार्जन की समीक्षा

जबलपुर,मुख्य सचिव श्री सुधि रंजन मोहन्ती ने आज भोपाल स्थित मंत्रालय में वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से रबी विपणन वर्ष 2019-20 में समर्थन मूल्य पर गेंहूँ उपार्जन व्यवस्थाओं की समीक्षा की। श्री मोहन्ती ने संभागायुक्तों एवं जिला कलेक्टरों को निर्देश दिए कि सभी खरीदी केन्द्रों की संख्या और उनके स्थान की उपयुक्तता की समीक्षा करें। समीक्षा में परिवहन सुगमता को ध्यान में रखा जाये। उन्होंने कहा कि खरीद प्रक्रिया को गति देने के उद्देश्य से परिवहन के लिए ट्रक में गेहूँ के लदान के साथ ही पेमेंट नोट किसान को उपलब्ध कराया जाएगा। मुख्य सचिव ने गेहूँ उपार्जन में दो टैग के स्थान पर एक टैग लगाने के निर्देश दिये।मुख्य सचिव श्री मोहन्ती ने कहा कि उपार्जन प्रक्रिया में एसएमएस व्यवस्था को जल्द ही जिला स्तर पर विकेन्द्रीकृत किया जाएगा। उन्होंने कलेक्टरों को भण्डारण व्यवस्था के लिए जिला स्तर पर आवश्यक समन्वय बनाये रखते हुए निरंतर सक्रिय रहने को कहा। श्री मोहन्ती ने कहा कि मंडियों में गेहूँ उपार्जन के दौरान पेयजल, कूलर, पब्लिक एनाउंसमेंट सिस्टम और किफायती दर पर भोजन उपलब्ध कराने की आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करें। मुख्य सचिव ने जिला कलेक्टरों से खरीदी केन्द्रों, संभावित आवक तथा भण्डारण व्यवस्था सहित अन्य व्यवस्थागत विषयों की जानकारी ली।वीडियो कॉन्फ्रेंस में प्रमुख सचिव सहकारिता श्री अजीत केसरी, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री अशोक बर्णवाल, प्रमुख सचिव खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति श्रीमती नीलम शमी राव सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

शेयर करें: