जल्द ही अपनी मूल पंचायतों में लौटेंगे ग्राम रोजगार सहायक

0

(मनोज यादव )

जनपद सीईओ ने जिला पंचायत को भेजी जानकारी,जनपद की 20 ग्राम पंचायतें है शामिल

ढीमरखेड़ा :- अपनी मूल पंचायत से हटकर अन्य दूसरी ग्राम पंचायतों में पदस्थ ग्राम रोजगार सहायक अब अपनी मूल ग्राम पंचायतों के लिए वापस होंगे। मनरेगा आयुक्त के आदेश होते ही ग्राम रोजगार सहायकों में हड़कंप की स्थिति मची हुईं हैं। वहीं जिला पंचायत सीईओ जगदीशचंद्र गोमे के निर्देश मिलते ही ढीमरखेड़ा जनपद पंचायत सीईओ के के पांडेय ने मूल पंचायत से अन्य दूसरी ग्राम पंचायतों में पदस्थ रोजगार सहायकों की जानकारी जिला पंचायत को भेजी है। जनपद सीईओ द्वारा भेजी गई सूची में 20 ग्राम पंचायतों के रोजगार सहायकों के नाम शामिल है। ढीमरखेड़ा जनपद पंचायत में में 73 ग्राम पंचायत है। 20 ग्राम पंचायतों के ग्राम रोजगार सहायक अपनी मूल पंचायत से अन्य दूसरी ग्राम पंचायतों प्रभारी सचिव बनकर पंचायत चला रहा है तो कोई पंचायत सचिव होने के बाद भी वित्तीय प्रभार का जिम्मा संभाले हुए है।जिसके फायदा उठाकर कोई रोजगार सहायक मनमानी पर उतारू है तो भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। वहीं जनपद में दो ग्राम पंचायत ऐसी है जहाँ पर पंचायत सचिव नही है।ग्राम रोजगार सहायक ही वित्तीय प्रभार लेकर पंचायत का पूरा संचालन करते हैं। अब इन ग्राम पंचायतों में सचिव होंगे या फिर आयुक्त के निर्देश पर कोई व्यकल्पित व्यवस्था होगी।लेकिन ग्राम रोजगार सहायक अपनी मूल पदस्थापना वाली पंचायत में चले जायेंगे।

ये रोजगार सहायक होंगे वापस:- ढीमरखेड़ा जनपद की इमलिया में पदस्थ ग्राम रोजगार सहायक अभिलाषा रैदास, भूला से प्रकाश पाल, धरवारा से नरेन्द्र हल्दकार, पडरभटा से राकेश रैदास, देवरी मंगेला से दिलीप गौतम, घुघरी से रविन्द्र तिवारी, मंगेली से प्रकाश सेन, घुघरा से अजय कोरी, पिपरिया शुक्ल से यूसुफ खान, परसेल से प्रदीप पटेल, बरही से श्रीकांत रावते, अन्तर्वेद से मोहम्मद रजा, सनकुई से साकेत गर्ग, घाना से भालचंद्र दुबे,देवरी बिछिया से अजय रजक, खमतरा से मनोज राय, बांध से गुलजार सिंह,बरेली रामपुर से मनोज शुक्ला अपनी मूल पंचायतों में वापस लौटेंगे। वहीं जनपद की दो पंचायतें खम्हा और खम्हरिया खमतरा जो कि सचिव विहीन है।खाम्हा में रोजगार सहायक मनोज पटेल और खम्हरिया खमतरा में रोजगार सहायक जितेंद्र सिंह के जिम्मे है।

इनका कहना है:- ऐसे रोजगार सहायक जो मूल पंचायत से अन्य दूसरी पंचायत में पदस्थ है। जिला सीईओ द्वारा जानकारी मांगी गई हैं, जिसकी जानकारी जिले में भेजी गई है। जो भी आदेश प्राप्त होते हैं ,उनका पालन किया जायेगा। :- के के पांडेय ,सीईओ ढीमरखेड़ा

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x