जब प्रसासन मेहरवान तो रेत माफिया पहलवान

जबलपुर , हिरन नदी के कई घाटों से रेत का अवैध उत्खनन किया जा रहा है सूत्रों की मानें तो हिरन से रेत का अवैध उत्खनन कर रहे रेत माफियों पर माईनिंग विभाग और स्थानीय पुलिस की कृपा भरपूर बरस रही है जिसके चलते प्रसासन द्वारा दिखावटी कार्यवाही के अतिरिक्त कुछ नहीँ किया जा रहा नतीजन आज इनकी सह पाकर रेत माफियों के हौसले बुलंद है आज हम बात कर रहे है मझगवां थाना क्षेत्र के हिरन नदी के घाट का है ग्रामीणों का आरोप है की रेत माफियाओं पर लगाम लगाने में पूरी तरह से नाकाम मझगवा पुलिस वाह वाही लूटने के लिए उन ट्रैक्टर ट्रॉली के खिलाफ मामला दर्ज करती है जिनसे पुलिस की सेटिंग नहीं हो पाती। पूर्व थाना प्रभारी बैजू राम चौधरी भी रेत खनन की वजह से पुलिस कप्तान ने उनका ट्रांसफर करवाया था। जिसके बाद क्षेत्र में खनन माफियाओं में नए थाना प्रभारी का खोफ था 10-15 दिन तक पूरी तरह से रेत खनन और परिवहन का काम बंद था। पर अब फिर से रात होते ही माफियाओं की धमाचौकड़ी से ग्रामीण परेशान हो रहे हैं।
वहीँ क्षेत्र में तो ये तक चर्चा है की बिना सेटिंग वाले ट्रैक्टर ट्रॉली को 10 किमी दूर गांव से पुलिस पकड़ कर ले जाती है पर थाने के सामने से निकलने वाले ट्रैक्टर ट्रॉली पुलिस को दिखाई नहीं देते।इसको ये भी कहना गलत नहीँ होगा की ‘जब प्रसासन मेहरवान तो रेत माफिया पहलवान ,कुछ इसी तरह की कहावत को सिद्ध करते रेत माफियों द्वारा बेख़ौफ़ होकर हिरन नदी का सीना छलनी किया जा रहा है

शेयर करें: