जब अचानक अस्पताल पहुँचे कलेक्टर

जबलपुर :कलेक्टर भरत यादव ने आज बरगी स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का आकस्मिक निरीक्षण किया और यहां उपचार के लिए आने वाले लोगों को बेहतर सुविधायें उपलब्ध कराने के निर्देश दिये । श्री यादव ने निरीक्षण के दौरान प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के विभिन्न वार्डों का मुआयना भी किया तथा साफ-सफाई पर ज्यादा ध्यान देने की हिदायत चिकित्सा अधिकारियों को दी ।निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने ओपीडी रजिस्टर और कर्मचारियों के हाजिरी रजिस्टर भी चेक किये । उन्होंने हाजिरी रजिस्टर में कर्मचारियों द्वारा कई-कई दिनों से हस्ताक्षर नहीं किये जाने पर नाराजी व्यक्त की तथा ऐसे सभी कर्मचारियों को नोटिस जारी कर जवाब तलब करने के निर्देश दिये जिनके हस्ताक्षर उपस्थिति पंजी में नहीं थे । कलेक्टर ने निरीक्षण के दौरान कहा कि ओपीडी में सुबह 9 से शाम 4 बजे तक डॉक्टरों की अनिवार्य रूप से उपस्थिति रहना होगा । श्री यादव ने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में रात्रिकालीन ड्यूटी पर तैनात किये जाने वाले चिकित्सकीय स्टाफ की जानकारी निरीक्षण के दौरान तलब की । उन्होंने रात्रिकालीन ड्यूटी पर तैनात स्टाफ को अनिवार्य रूप से उपस्थिति सुनिश्चित करने के सख्त निर्देश भी दिये ।
कलेक्टर ने निरीक्षण के दौरान अस्पताल के दवा वितरण केन्द्र तथा पैथालॉजी सेंटर की जांच भी की । उन्होंने दवा वितरण केन्द्र के दवाओं की उपलब्धता का ब्यौरा लिया तथा पैथालॉजी सेंटर में की जाने वाली जांचों की सूची सूचना पटल पर प्रदर्शित करने के निर्देश दिये । श्री यादव ने इस मौके पर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में पलंग पर बिछे चादरों को तथा खराब बल्ब और ट्यूबलाईट को तुरंत बदलने की हिदायत दी । कलेक्टर ने स्वास्थ्य केन्द्र के निरीक्षण के दौरान दस्तक अभियान के तहत पांच वर्ष तक की आयु के बच्चों के स्वास्थ्य एवं पोषण स्तर की जानकारी लेने घर-घर किये जा रहे सर्वे की प्रगति की जानकारी भी ली । श्री यादव ने निरीक्षण के दौरान मौजूद बरगी के सरपंच एवं नागरिकों से दसतक अभियान में सक्रिय सहभागिता निभाने का अनुरोध किया ।

बरगी नगर के उप स्वास्थ्य केन्द्र का भी किया निरीक्षण:

प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बरगी के आकस्मिक निरीक्षण के पहले कलेक्टर श्री यादव ने बरगी नगर स्थित उप स्वास्थ्य केन्द्र का भी अवलोकन किया । उन्होंने उप स्वास्थ्य केन्द्र में साफ-सफाई के अभाव पर अप्रसन्नता व्यक्त करते हुए भवन की जर्जर हालत को देखते हुए इसके उन्नयन का प्राक्कलन तैयार करने के निर्देश अधिकारियों को दिये ।
श्री यादव ने इस मौके पर स्थानीय लोगों से भी चर्चा की । चर्चा के दौरान स्थानीय नागरिकों ने बताया कि उप स्वास्थ्य केन्द्र बरगी में कई वर्षों से चिकित्सक की पदस्थापना नहीं की गई है । केवल कुछ कर्मचारियों के भरोसे ही यह उप स्वास्थ्य केन्द्र चल रहा है । स्थानीय निवासियों ने बताया कि चिकित्सक पदस्थ नहीं होने के कारण इस उप स्वास्थ्य केन्द्र में कोई इलाज कराने भी नहीं आता । कलेक्टर ने इस बारे में जल्दी ही ठोस कार्यवाही करने का तथा उप स्वास्थ्य केन्द्र भवन के उपयोगिता के बारे में भी फैसला लिये जाने की बात स्थानीय नागरिकों से कही ।प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बरगी और उप स्वास्थ्य केन्द्र बरगी नगर के निरीक्षण के दौरान एसडीएम नम:शिवाय अरजरिया, खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ. जया श्रीवास्तव, तहसीलदार, जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी भी मौजूद थे ।

शेयर करें: