जनसुनवाई में करीब सवा सौ आवेदकों ने कलेक्टर को बताई अपनी समस्या

जनसुनवाई में तौफीक को इलाज और प्रेमबाई को बच्चों की पढ़ाई के लिए मिली आर्थिक मदद
जबलपुर : जनसुनवाई में अपनी समस्या के समाधान होने की उम्मींद में कलेक्ट्रेट पहुंचे आवेदकों को कलेक्टर भरत यादव की जनसमस्याओं के निराकरण के प्रति सकारात्मक सोच और संवेदनशील व्यवहार देखकर आवेदकों के मन में अपनी समस्या के निराकरण होने के प्रति भरोसा जगा है । कलेक्टर श्री यादव ने जनसुनवाई में पहुंचे एक-एक आवेदक की समस्या को बड़े ध्यान से सुना और उन्हें विश्वास दिलाया कि उनके साथ किसी भी प्रकार की नाइंसाफी नहीं होने दी जायेगी । भले ही समस्याओं के निपटारे में समय लगे, लेकिन हर जायज समस्या का निराकरण होगा । उन्होंने यकीन दिलाया कि जिस भी स्तर की समस्या होगी, वे उसके निदान की भरसक कोशिश करेंगे । मंगलवार को कलेक्ट्रेट में हुई जनसुनवाई में करीब सवा सौ आवेदक अपनी समस्या लेकर पहुंचे । इनमें अधिकांश आवेदन रोजमर्रा की समस्याओं से सम्बंधित थे, जबकि कुछ आवेदन राशन कार्ड बनवाने , सामाजिक सुरक्षा पेंशन स्वीकृत करने, अनुकम्पा नियुक्ति दिलाने, उपचार हेतु आर्थिक सहायता प्रदान करने और बच्चों की पढ़ाई के लिए मदद से सम्बधित भी थे जनसुनवाई में कंचन विहार में किराये से रहने वाले आवेदक 74 वर्षीय वाल्मीकि प्रसाद शुक्ला ने पाटन के झामर स्थित उनकी खेती की जमीन पर बड़े बेटे भारती शरण शुक्ला द्वारा कब्जा करने की नियत से प्रताड़ित किये जाने की शिकायत की । कलेक्टर ने इस बुजुर्ग की शिकायत को न केवल गम्भीरता से लिया, बल्कि तत्काल एसडीएम पाटन को फोन कर इस मामले में तुरन्त कार्यवाही करने के निर्देश दिये । श्री यादव ने एसडीएम पाटन से कहा कि बुजुर्ग के बेटे को तुरन्त बुलाकर समझाइश दें और इसके बाद भी यदि वह पिता को परेशान करना बंद नहीं करता तो उसके विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही करें । जनसुनवाई में श्री यादव की संवेदनशील और मानवीय दृष्टिकोण की झलक भी दिखाई दी । उन्होंने बढ़ई मोहल्ला फूटाताल की दीपा विश्वकर्मा के आवेदन पर उसके और उसके पति के उपचार के लिए निःशुल्क दवाएं उपलब्ध कराने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दिए ।कलेक्टर ने शेख रमजान के आवेदन पर थैलीसीमिया से पीड़ित उसके पांच वर्षीय बेटे तौफीक को उपचार के लिये बाहर ले जाने में लगने वाले खर्च के लिए 10 हजार रुपये की राशि रेडक्रॉस से स्वीकृत की । उन्होंने एक अन्य मामले में बच्चों की शिक्षा के लिए ग्वारीघाट निवासी प्रेमबाई मल्लाह को मदद स्वरूप रेडक्रॉस से पांच हजार रुपए का चेक मौके पर ही प्रदान किया । श्री यादव ने पति के निधन होने के बाद परिवार सहायता योजना का लाभ नही मिलने पर जबलपुर की सोमवतीबाई कोरी की शिकायत का तुरन्त परीक्षण करने के निर्देश नगर निगम के अधिकारी को दिए । इसी तरह बिलपुरा की श्रीमती अंजुलता पटेल की पिछले करीब डेढ़ साल से बंद निःशक्तता पेंशन को पुनः शुरू करने के लिए उसका नया खाता खुलवाने एवं अन्य जरूरी औपचारिकताएं पूरी करने के निर्देश सामाजिक न्याय विभाग के अधिकारी को दिए । कलेक्टर के साथ जनसुनवाई में अपर कलेक्टर व्ही. पी. द्विवेदी तथा नगर निगम, स्वास्थ, शिक्षा, विद्युत, सामाजिक न्याय तथा पँचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अधिकारी मौजूद थे ।
शेयर करें: