चमकी-बुखार से बच्चों की मौत का सिलसिला तो थमा मगर नए मरीजों का आना जारी

0

(अशोक कुमार वर्मा )

मुज़फ़्फ़रपुर : उत्तर बिहार में लगभग चार हफ्ते बाद गुरुवार को चमकी-बुखार से बच्चों की मौत का सिलसिला तो थमा मगर नए मरीजों का आना जारी रहा। एसकेएमसीएच व केजरीवाल अस्पताल में कुल मिलाकर नौ बच्चों को भर्ती किया गया है।
स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि शिशु रोग विशेषज्ञों की टीम एसकेएमसीएच के पांच पीआईसीयू में बेहतर इलाज कर रही है। स्थानीय डॉक्टरों को टीम के प्रोटोकॉल पर काम करना होगा। इसमें किसी तरह की लापरवाही नहीं होनी चाहिए।
चमकी बुखार से पीड़ित नौ नये मरीजों में से एसकेएमसीएच में आठ व केजरीवाल अस्पताल में एक को भर्ती किया गया। 27 जून तक एईएस से 180 बच्चों की जानें जा चुकी हैं। जबकि 560 मामले सामने आ चुके हैं।
इधर, एसकेएमसीएच अधीक्षक डॉ. एसके शाही व जिला प्रशासन ने अपने बुलेटिन में दिन में केवल दो बच्चे के ही भर्ती होने की बात कही। देर शाम तक अपडेट रिपोर्ट जारी होगी। अधिकारियों के अनुसार जनवरी से अबतक 605 बच्चे बीमारी से ग्रसित हुए हैं। उनके अनुसार 132 की ही जान गई है। इसमें एसकेएमसीएच में 111 व केजरीवाल अस्पताल में 21 बच्चों की मौत हुई है।
*समस्तीपुर में एईएस के छह संदिग्ध मरीज भर्ती*
सदर अस्पताल में एईएस के संदिग्ध मरीजों के आने का सिलसिला गुरुवार को भी जारी रहा। पिछले 24 घंटे में सदर अस्पताल में छह नए मरीजो को भर्ती कराया गया है। हालांकि इनमें से किसी मरीज को रेफर नही किया गया है। सभी का सदर अस्पताल में ही इलाज चल रहा हे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x