चक्रवात वायु ने सोमनाथ मंदिर को घेरा

सूरत :गुजरात में समुद्र से उठे चक्रवात वायु का असर तटीय जिलों में दिखने लगा है। यहां गिर सोमनाथ जिले में स्थित सोमनाथ मंदिर भी तेज आंधी और धूल से घिर गया। on india smchaar की मानें तो इसके फोटो और वीडियो सामने आए हैं, जो कि वायरल होने लगे हैं। वीडियो में आप देख सकते हैं किस तरह चक्रवातीय आंधी ने भगवान के दर पर भी अपना रौद्ररूप पसारा हुआ है। राज्यभर से मिल रही ऐसी खबरों को देखते हुए मुख्यमंत्री विजय रुपाणी खुद बचाव अभियानों की अगुवाई कर रहे हैं। उन्होंने अपने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ राहत कार्यों से जुड़ी तैयारियों पर चर्चा करने के लिए अभी बैठक की। मौसम विभाग का कहना है कि वायु चक्रवात कल सुबह तक गुजरात के तट पर दस्तक देगा।वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट कर विनाशकारी चक्रवात से निपटने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि वे वायु चक्रवात पर नजर बनाए हुए हैं। साथ ही सभी राज्य सरकारों से संपर्क में हैं और एनडीआरएफ समेत अन्य एजेंसियां लगातार काम कर रही हैं, ताकि हर संभव मदद के लिए तैयार रहें। मोदी के अलावा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का भी बयान आया है। उन्होंने कहा है कि चक्रवात वायु गुजरात के तट पर पहुंचने वाला है। मैं सभी गुजरात कांग्रेस कार्यकर्ताओं से अपील करता हूं कि वे उन सभी क्षेत्रों में मदद करने के लिए तैयार रहें जो चक्रवात के रास्ते में आते हैं। बहरहाल सोमनाथ मंदिर को देखकर लगता है कि तूफान का असर बहुत ज्यादा होगा। क्योंकि, अभी तो चक्रवात गुजरात से तकरीबन 300 किमी दूर है।

नियंत्रण कक्ष शुरू, मंदिर-मस्जिदों पर भीड़ घटी

चक्रवात को लेकर सरकार ने समुद्री तटीय इलाकों में अलर्ट जारी किया है। वहीं, ऊर्जा विभाग ने सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात में नियंत्रण कक्ष शुरू किए है। तूफान की स्थिति के बारे में, राज्य सरकार भारत के मौसम विभाग और इसरो के साथ लगातार संपर्क में है और स्थिति की निगरानी कर रही है। राजस्व विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पंकज कुमार ने एक समीक्षा बैठक में पूरी स्थिति की समीक्षा की है और मदद एवं बचाव कार्य के लिये जिला प्रशासन को आदेश दिये हैं।

शेयर करें: