गोसलपुर की इस खदान में अवैध रूप से बिक रहा ओभरवर्डन

गर्मी में एसी का मजा ले रहा प्रशासन व माईनिंग विभाग

जबलपुर ,गोसलपुर थाने के पीछे लगी नीरज श्रीवास्तव की खदान से ओभरवर्डन को चोरी छुपे एलएनटी में बेंचा जा रहा है विश्वनीय सूत्रों की मानें तो खदान संचालक के पास ओभरवर्डन बिक्री हेतु प्रशासन से कोई अनुमति नहीँ है उसके बावजूद खदान संचालक द्वारा धड़ल्ले से एलएनटी में ओभरवर्डन की बिक्री की जा रही है इतना ही नहीं खदान गोसलपुर थाने के बगल से लगी होने के बाद भी पुलिस ने आज तक न कभी यहाँ से ओभरवर्डन से ओभर होकर गुजरने वाले हाइवा डंफरो की जांच की न ही कभी इनकी पर्ची चैक करने की कार्यवाही सूत्र बताते है की एक ही पर्ची से कई डंफर हाइवा पार हो जाते है आपको बता दें मेसर्स एसएस इंटरप्राइजेस के नीरज श्रीवास्तव को गोसलपुर तहसील सिहोरा की खसरा क्रमांक 115, 160, 123, 151 की कुल 39.440 हैक्टेयर क्षेत्र में खनिज निकालने मप्र शासन ने वर्ष 2007 में लीज दी थी। जो वर्ष 2027 तक के लिये है नियमों की मानें तो ओभरवर्डन उस समय काम लाया जाता है जब खदान बन्द की जाती है उसकी पुराई के लिए लेकिन यहाँ तो ओभरवर्डन डस्ट का प्रशासन की बिना अनुमति बिक्री की जा रही है

दो माह से चल रहा अवैध कारोबार

वहीं सूत्रों की मानें तो विगत दो माह से नीरज श्रीवास्तव की इस खदान से ओभरवर्डन अवैध तरीके से बेंचा जा रहा है लेकिन न कभी स्थानीय प्रशासन न ही माईनिंग विभाग ने इस अवैध कारोबार की जांच कर कार्यवाही की अब ऐसे में सवाल उठता है की क्या स्थानीय प्रशासन और माईनिंग विभाग के आला अधिकारी गर्मी में एसी का मजा लेने में ही व्यस्त तो नहीँ है

इनका कहना है ,नीरज श्रीवास्तव की गोसलपुर खदान के पास ओभरवर्डन बिक्री की अनुमति नहीं है यदि ऐसा किया जा रहा है तो कार्यवाही की जाएगी

माईनिंग इंस्पेक्टर ,देवेंद्र पटले

शेयर करें: