गेहूं के फर्जी पंजीयन के कई मामले सामने आये किसान बताकर शासन को हानि पहुंचाने पर होगी कार्यवाही

जबलपुर,गेहूं के पंजीयन के सत्यापन के दौरान कई ऐसे मामले सामने आये हैं जिनमें किसानों की आड़ में उपार्जन व्यवस्था का अनुचित लाभ उठाने की कोशिश की जा रही थी ।कलेक्टर श्रीमती छवि भारद्वाज के निर्देश पर एसडीएम जबलपुर नम:शिवाय अरजरिया द्वारा की गई जांच में जहां कालोनी और होटल की भूमि पर गेहूं की फसल लेना बताकर फर्जी पंजीयन का मामला पकड़ा गया है । वहीं समिति के कर्मचारियों की मिलीभगत से पड़ती भूमि के पंजीयन का प्रकरण भी प्रकाश में आया है ।एसडीएम जबलपुर नम:शिवाय अरजरिया के मुताबिक गेहूं के पंजीयन के सत्यापन की आज मंगलवार को की गई कार्यवाही के दौरान एक ऐसा मामला सामने आया जिसमें अनिल गोयल द्वारा खुद को किसान बताकर 32.31 हेक्टेयर भूमि पर बरेला वृहताकार सोसायटी में गेहूं का पंजीयन कराया लिया गया जबकि मौके पर की गई जांच में केवल 4 हेक्टेयर भूमि पर ही गेहूं की फसल लेना पाया गया और शेष भूमि पर अनिल गोयल द्वारा कालोनी और रिसोर्ट का निर्माण कराया गया था । इसी तरह एक अन्य मामले में ग्राम रामपुर नकटिया के कृषक झाडू लाल की 6 एकड़ भूमि पर भी गेहूं का पंजीयन करा लिया गया था । जबकि यह भूमि पड़त पाई गई । इस मामले में समिति के कर्मचारियों की मिलीभगत भी सामने आई है । कृषक श्री झाडू लाल ने सत्यापन के दौरान दिये गये बयान में अन्य व्यक्ति द्वारा पंजीयन कराये जाने की बात एसडीएम को बताई ।पंजीयन के सत्यापन के दौरान ही ग्राम सालीवाड़ा के बालकृष्ण सेठी की भूमि पर गेहूं की फसल ली जाना बताकर ई-उपार्जन पोर्टल पर पंजीयन पाया गया जबकि यह भूमि भी पड़ती भूमि थी । ग्राम सिवनी टोला के एक प्रकरण में सत्यापन के दौरान पाया गया कि जिस रकबे पर गेहूं का पंजीयन पिता सुखलाल पटैल ने कराया था उसी भूमि का पंजीयन उसके पुत्रों द्वारा भी अपने नाम से ई- पोर्टल पर करा लिया गया था । इससे 24 हेक्टेयर रकबे का अधिक पंजीयन हो गया था सिवनी टोला में ही एक अन्य मामले में सिकमी पर खेती करने वाले 6 किसानों के नाम से पंजीयन पाया गया जबकि मौके पर किये गये सत्यापन में इनमें से एक भी इस गांव में कृषक मौजूद नहीं मिला । यहां तक की ग्रामवासियों को भी यह जानकारी नहीं थी कि ये किसान उनके ही गांव के हैं । एसडीएम जबलपुर ने बताया कि खुद को किसान बताकर शासन को आर्थिक हानि पहुंचाने के प्रयास करने के इन मामलों में संबंधित व्यक्तियों के विरूद्ध शीघ्र कार्यवाही की जायेगी ।
शेयर करें: