गांधीग्राम के ढाबा संचालक की हत्या का एक आरोपी पुलिस गिरफ्त में दो की तलाश

0

जबलपुर :गोसलपुर के गांधीग्राम में ढाबा संचालक की गोली मारकर हुई अंधी हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने 1 आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है लेकिन मुख्य आरोपी व उसका 1 साथी अभी भी फरार है जिसकी सरगर्मी से पुलिस तलाश कर रही है गिरफ्तार आरोपी में 1-अंचल नामदेव पिता अरुण नामदेव उम्र 22 साल निवासी नई बस्ती नं. 2 गोहलपुर (सहयोगी आरोपी) फरार आरोपीयों में (1) प्रकरण का मुख्य आरोपी ऋषभ शर्मा उर्फ शेरा पिता अशोक शर्मा निवासी वार्ड नं. 10 गांधीग्राम बुढागर थाना गोसलपुर(2) एक अन्य साथी की तलाश जारी है पुलिस ने घटना में उपयोग की गई मोटर सायकिल हीरो डिलक्स बिना नम्बर की एवं एक्टिवा एमपी 20 एस जे 6344 जप्त कर ली है

ये है पूरा मामला

थाना गोसलपुर में दिनॉक 24-11-19 को प्रातः राजेश उर्फ राजू पटेल उम्र 53 वर्ष निवासी बुढागर ने सूचना दी थी कि दिनॉक 23-11-19 को रात 11-45 बजे अपने घर में था अचानक जोर से गोली चलने की आवाज आई वह घर के बाहर निकला तो देखा कि उसके घर के सामने वाला ऋषि असाटी उम्र 26 वर्ष का घायल लहु-लुहान अवस्था में एक्टिवा के नीचे दबा पडा था, जिसके सिर, नाक, कान से काफी खून बहा था, आवाज सुनकर ऋषि की मॉ भी आ गयी, उसके आवाज देने पर आस पडोस के लेग आ गये, अल्टो कार से ऋषि को पनागर अस्पताल लेकर पहुंचा जहॉ से रिफर करने पर रात 1-30 बजे मेट्रो अस्पताल पहुंंचा जहॉ डाक्टर ने परीक्षण उपरांत ऋषि असाटी को मृत घोषित कर दिया। पंचनामा कार्यवाही कर शव को पीएम हेतु भिजवाते हुये मर्ग कायम कर जांच में लिया गया। अज्ञात आरोपी के द्वारा गोली मारकर हत्या करना पाया जाने पर धारा 302 भादवि का अपराध ंपजीबद्ध कर प्रकरण विवेचना में लिया गया।घटित हुई घटना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया। पुलिस अधीक्षक जबलपुर अमित सिंह (भा.पु.से) द्वारा आरोपी की पतासाजी करते हुये अविलम्ब गिरफ्तार करने हेतु आदेशित किये जाने पर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण डॉ. राय सिंह नरवरिया, एस.डी.ओ.पी. सिहोरा भावना मरावी के मार्ग निर्देशन में थाना प्रभारी सारिका पांडे के नेतृत्व में टीमें गठित की गयी।

घर के सामने घात लगाकर बैठे थे हत्यारे

वहीं पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक दिनांक 23/11/19 के मध्य रात्रि समय करीब 00/15 बजे थाना गोसलपुर के ग्राम बुढागर मे ढाबा संचालक (मालिक) ऋषि असाटी पिता पुरुषोत्तम असाटी उम्र 26 साल निवासी गांधीग्राम बुढागर को ऋषभ शर्मा द्वारा पूर्व से रूपयें की मांग को लेकर सुनियोजित तरीके से दिनांक 23/11/19 की मध्य रात्रि को ऋषि के घर के सामने घात लगाकर बैठे रहना एंव ऋषि के ढाबा बंद कर घर पहुँचने पर उसी के घर के सामने ऋषभ (पंडित) शर्मा एंव एक अन्य साथी द्वारा ऋषि के सिर पर गोली मारकर हत्या कर देना, घटना के बाद तीसरे साथी अंचल नामदेव को कटंगी बायपास पर फोन लगाकर बुलाकर मोटर सायकिल हीरो सी.डी.डीलक्स बिना नम्बर के वाहन को कठोदा रोड पर झाडियो मे हीरो होण्डा एंजेसी के पास फेंक देना, उसके बाद एक्टिवा से मदन महल होते हुए मुख्य रेल्वे स्टेशन जबलपुर पर ऋषभ शर्मा, अंचल नामदेव अपने एक अन्य साथी के साथ पहुँचे जहॉ से अंचल अपने घर चला गया ऋषभ अपने साथी के साथ कहीं बाहर भाग गया । अंचल नामदेव को अभिरक्षा मे ंलेकर सघन पूछताछ की गयी तो अंचल नामदेव ने ऋषभ शर्मा से 2 माह पहले एक पिस्टल एवं 06 कारतूस 35 हजार रुपये मे खरीदना बताते हुये उक्त खरीदी हुई पिस्टल ऋषभ द्वारा दिवाली के बाद ऋषि असाटी ढाबा संचालक को मारने के लिये ले लेना बताया, तथा बताया कि उसे घटना के दिन तथा इसके पूर्व इस बात की जानकारी थी कि ऋषि असाटी से ऋषभ जबरदस्ती 02 लाख रुपये की मांग कर रहा है, ऋषि रूपये नहीं दे रहा है, ऋषभ उसका मर्डर कर देगा। घटना के पश्चात भागने मे प्रयुक्त वाहन हीरो सी.डी.डीलक्स बिना नम्बर की एवं एक्टिवा एमपी 20 एसजे 6344 को जप्त किया गया है। आरोपी अंचल नामदेव की प्रकरण में विधिवत गिरफ्तारी करते हुये फरार ़ऋषभ शर्मा एवं उसके एक अन्य साथी की गिरफ्तारी हेतु टीमें लगायी गयी हैं जिनके द्वारा हर सम्भावित स्थानों पर दबिश दी जा रही है।

उल्लेखनीय भूमिका- अंधी हत्या का पर्दाफाश कर आरोपी को गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी गोसलपुर सारिका पांडे, उप निरीक्षक रितेश पांडे, उप निरीक्षक पुष्कर मिश्रा, जे.पी.द्विवेदी, आरक्षक सतेन्द्र बिसेन, अमित रैकवार, भरत अवस्थी ,सायबर सेल टीम सैनिक शिवकुमार दुबे कर सराहनीय भूमिका रही

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x