खाद के अवैध भण्डारण एवं परिवहन पर 8 प्रकरणों में एफ.आई.आर,6 प्रकरणों में लायसेंस निरस्त एवं निलंबन की कार्यवाही


जबलपुर :उर्वरक के भण्डारण, परिवहन एवं विक्रय पर सख्ती से निगरानी की जा रही है। सभी जिलों में खाद-यूरिया वितरण व्यवस्था की मॉनिटरिंग के लिये जिला कलेक्टर्स एवं विभागीय अधिकारियों को आकस्मिक निरीक्षण के निर्देश भी दिये गये है। इस कार्यवाही के चलते जबलपुर संभाग के तीन जिलों में छिंदवाड़ा, सिवनी व नरसिंहपुर में उर्वरक का अवैध भण्डारण करने वालों के खिलाफ पुलिस में 8 एफ.आई.आर. दर्ज करवाई गई, वहीं दूसरी ओर 6 प्रकरणों में लायसेंस निरस्त किये गये।
उपलब्धता के अनुसार किसानों को खाद-बीज वितरण विक्रय करने के अभियान में राज्य शासन द्वारा प्रदेश के सभी विक्रय केन्द्रों का निरीक्षण भी करवाया जा रहा है। निरीक्षण के दौरान पाई जा रही अनियमितताओं के लिये संबंधित व्यक्ति एवं संस्था के विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही के साथ कानूनी कार्यवाही भी की जा रही है।छिन्दवाड़ा जिले में 154 विक्रय केन्द्रों पर किये गये निरीक्षण के दौरान अवैध भण्डारण करने पर तीन एफ.आई.आर. दर्ज की गई। बिना बिल के उर्वरक विक्रय करने पर एक लायसेंस निरस्त कर 3 प्रकरणों में निलंबन की कार्यवाही की गई।
सिवनी जिले में 105 विक्रय केन्द्रों पर किये गये निरीक्षण में यूरिया अवैध भण्डारण के 2 प्रकरणों में एफआईआर व 2 प्रकरणों में उर्वरक भण्डारण सीज कर एफ.आई.आर. की कार्यवाही और 1 प्रकरण में निलंबन की कार्यवाही की गई।
नरसिंहपुर जिले के 122 विक्रय केन्द्रों के निरीक्षण में यूरिया के अवैध परिवहन एवं भण्डारण पर एक एफ.आई.आर. और 2 प्रकरणों में निलंबन की कार्यवाही की गई है।

शेयर करें: