कलेक्टर व एसपी ने किया एसएसटी चेक प्वाइंट का औचक निरीक्षण

जबलपुर ,कलेक्टर श्रीमती छवि भारद्वाज और पुलिस अधीक्षक निमिष अग्रवाल ने आज देर शाम अंध मूक (भेड़ाघाट बाईपास ) चौराहा बिनेकी और तिलहरी स्थित एसएसटी चेक प्वाइंट का आकस्मिक निरीक्षण किया और दल प्रभारियों को मुस्तैदी से वाहनों की जांच करने के निर्देश दिए।कलेक्टर, एसपी के औचक निरीक्षण का देर शाम से शुरू हुआ यह सिलसिला रात 9 बजे तक जारी रहा । अधिकारी द्वय द्वारा चेक प्वाइंट्स का निरीक्षण कर सजगता से कार्य करने की हिदायत दी गई ।कलेक्टर श्रीमती छवि भारद्वाज ने बाईपास चौराहा चेक प्वाइंट पर संधारित रजिस्टर का मुआयना किया । उन्होंने दल प्रभारी विनोद प्रकाश सिंह सहित सभी सदस्यों को तय समय पर ड्यूटी पर मौजूद रहने की सख्त हिदायत दी । इस मौके पर पुलिस अधीक्षक निमिष अग्रवाल ने एसएसटी प्रभारी से वाहनों की जांच और कार्यवाही में होने वाली कठिनाइयों के बारे में जानकारी ली । पुलिस अधीक्षक ने एसएसटी प्रभारी को अपना मोबाइल नम्बर देते हुए कहा यदि कार्यवाही के दौरान किसी भी प्रकार की कोई समस्या आती है तो बिना संकोच के तुरंत उन्हें फोन करें । वे रात को तीन बजे भी उनकी मदद को आने के लिये तैयार रहेंगें ।
भेड़ाघाट बाईपास चौराहे के बाद कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने पाटन – जबलपुर की सीमा पर बिनेकी एसएसटी चेक प्वाइंट का भी निरीक्षण किया । इस दौरान उन्होंने मार्ग से गुजर रहे वाहनों को रुकवाकर एसएसटी दल के सदस्यों से जांच भी कराई। कलेक्टर ने इस मौके पर एसएसटी दल प्रभारी को संदिग्ध नजर आने पर प्रत्येक वाहन की सघन जांच करने के निर्देश दिए । श्रीमती भारद्वाज ने पुलिस अधीक्षक से चेक प्वाइंट पर रात्रि के समय पुलिस बल की उपलब्धता बढ़ाने के लिये कहा । पुलिस अधीक्षक ने एसएसटी प्रभारी को चेक प्वाइंट पर स्टॉपर्स को इस तरह रखने के निर्देश दिए, जिससे कि कोई भी वाहन वहां से बिना रूके नहीं निकल सके । पुलिस अधीक्षक ने एसएसटी प्रभारियों को सम्बंधित पुलिस थाना इंचार्ज से निरंतर सम्पर्क में रहने की बात कही ।
कलेक्टर श्रीमती भारद्वाज एसएसटी चेक प्वाइंट के प्रभारियों को निर्देशित किया कि दुपहिया वाहन, स्कूटी की डिक्की व मोटर साइकिल आदि वाहनों सहित बैग आदि की भी सघनता से जांच करें।
क्लेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने जबलपुर – बरेला मार्ग पर तिलहरी में स्थापित एसएसटी चेक प्वाइंट का भी निरीक्षण किया । इस दौरान उन्होंने एसएसटी प्रभारी से अभी तक की कार्यवाही का ब्यौरा लिया । एसएसटी प्रभारी एवं दल के सदस्यों को वाहनों की जांच के दौरान धौंस दिखाने वाले या अनावश्यक बहस और अभद्रता करने वाले वाहन चालकों के विरुद्ध सीधे पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए गए । कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने चेक प्वाइंट पर वाहनों की जांच की सम्पूर्ण प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराने के साथ – साथ जांच की कार्यवाही में व्यवधान पैदा करने वालों और विवाद करने वालों की भी वीडियोग्राफी कराने के निर्देश एसएसटी प्रभारी को दिए ।

शेयर करें: