कलेक्टर बन गए शिक्षक ग्यारहवीं कक्षा के छात्रों को पढ़ाई इतिहास

ग्रामीण क्षेत्रों का किया औचक भ्रमण

जबलपुर :कलेक्टर श्री भरत यादव ने आज गुरुवार को कटंगी-मझौली के ग्रामीण क्षेत्रों का औचक भ्रमण किया । इस दौरान उन्होंने बेलखाडू स्थित शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला का निरीक्षण किया और इतिहास की पढ़ाई कर रहे ग्यारहवीं कक्षा के बच्चों की क्लास ली । श्री यादव ने बच्चों से कहा कि इतिहास याद करने का नहीं बल्कि पुराने तथ्यों एवं घटनाक्रमों को वर्तमान से जोड़कर समझने का विषय है। कलेक्टर ने छात्र-छात्राओं को पढ़ाई के साथ-साथ खेलकूद , निबन्ध , वाद-विवाद एवं सांस्कृतिक गतिविधियों में भी भाग लेने की समझाईश दी । उन्होंने कहा कि व्यक्तित्व में निखार लाने के लिये पढ़ाई के साथ इन गतिविधियों में हिस्सा लेना भी जरूरी है ।
बेलखाडू शाला के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने शाला प्राचार्य को शाला परिसर की स्वच्छता पर ज्यादा ध्यान देने के निर्देश दिए । जिला पंचायत के सीईओ प्रियंक मिश्र भी निरीक्षण के दौरान कलेक्टर के साथ मौजूद थे ।

बोरिया शाला परिसर में पौधा रोपण:

शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला बेलखाडू का निरीक्षण करने के बाद कलेक्टर ग्राम बोरिया स्थित शाला में पौधारोपण कार्यक्रम में शामिल हुए । उन्होंनेशाला परिसर में जामुन का पौधा रोपा । इस मौके पर श्री यादव ने बच्चों को पौधे रोपने और लगाए गए पौधों की सुरक्षा करने का संकल्प दिलाया ।

कलेक्टर ने बोरिया में ग्रामीणों से की चर्चा

ग्रामीणों से बोरिया कांटी सड़क की खराब हालत की जानकारी मिलने पर उन्होंने इसकी मरम्मत कराने के निर्देश अधिकारियों को दिये । उन्होंने शाला के समीप स्थित शासकीय भूमि तथा बाजार की भूमि पर हुए अतिक्रमणों को हटाने के निर्देश तहसीलदार को दिए ।
एक परिसर एक शाला में बोरिया शाला के शामिल होने के फलस्वरूप यहां 17 अतिरिक्त कक्षों के निर्माण की आवश्यकता बताये जाने पर कलेक्टर ने वर्तमान शाला परिसर में भूमि की अनुपलब्धता के मद्देनजर ऐसे किसी दूसरे स्थान पर शाला भवन के निर्माण की आवश्यकता बताई जहां खेल का मैदान भी बनाया जा सके । उन्होंने इसके लिए भूमि चिन्हित करने के निर्देश अधिकारियों को दिये ।
कलेक्टर ने ग्रामीणों द्वारा गांव में बनाई गई पानी की टंकी से अभी तक पेयजल की आपूर्ति प्रारंभ नहीं हो पाने की शिकायत को भी गंभीरता से लिया । उन्होंने मौके पर मौजूद अधिकारियों को पाईप लाईन डालकर गांव में पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश दिये ।श्री यादव ने बोरिया में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और प्राथमिक सेवा सहकारी समिति का निरीक्षण भी किया ।

खजरी वितरण नहर का किया निरीक्षण :-

कलेक्टर श्री यादव ने ग्रामीण क्षेत्र के भ्रमण के दौरान बरगी बांध की खजरी वितरण नहर का निरीक्षण किया और नर्मदाघाटी विकास प्राधिकरण के अधिकारियों को नहर को पक्का बनाने का कार्य शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए । उन्होंने मौके पर मौजूद किसानों से भी चर्चा की और उनसे फसलों की स्थिति के बारे में जानकारी ली । किसानों ने कलेक्टर को बताया कि नहर से मिल रहे पानी फलस्वरूप यहां धान की बुआई की स्थिति अच्छी है ।नहर के निरीक्षण के दौरान मौजूद किसानों ने कलेक्टर को बताया कि कृषि विभाग का अमला उनके क्षेत्र स लगातार अनुपस्थित रहता है और इस वजह से उन्हें खेती-किसानी की नई विधियों तथा उर्वरक के सन्तुलित इस्तेमाल के बारे में कोई जानकारी या सलाह नहीं मिल पाती है । कलेक्टर ने किसानों की इस शिकायत पर एसडीओ कृषि को नियमित रूप से क्षेत्र का भ्रमण करने, किसानों से निरन्तर सम्पर्क में रहने तथा क्षेत्र में पदस्थ ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारियों का मासिक कैलेंडर तैयार करने एवं उनके कार्यों की मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए । श्री यादव ने नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के अधिकारियों को भी नहरों के रखरखाव पर ध्यान देने तथा किसानों से निरंतर संपर्क में रहने की हिदायत दी ।

लुहारी में किया ग्रामीणों से संवाद:

कलेक्टर श्री यादव ने बोरिया के बाद ग्राम लुहारी (कांटी) में आयोजित चौपाल में ग्रामीणों से संवाद किया और उनकी समस्यायें जानी । इस मौके पर ग्रामवासियों ने कलेक्टर के समक्ष ग्राम की पेयजल समस्या के स्थाई निराकरण की मांग की । ग्रामवासियों ने बताया कि मोटर पम्प फिट नहीं हो पाने और पाइप लाइन का ज्यादातर हिस्सा चोक हो जाने के कारण नल-जल योजना से गांव में पानी की आपूर्ति नहीं हो पा रही है । श्री यादव ने गांव में मोटर पम्प लगाकर नल-जल योजना को चालू करने के तथा चोक पाइप लाइन के स्थान पर नई पाइप लाइन डालने का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश अधिकारियों को दिये ।
श्री यादव ने ग्रामीणों से संवाद के दौरान घरों के आसपास पौधे लगाने और उनकी सुरक्षा करने की बात कही । उन्होंने ग्राम पंचायत कार्यालय के सामने स्थित तालाब में सिंघाड़ा लगाने के साथ-साथ मछली पालन करने की सलाह भी दी । ग्राम पंचायत लुहारी में ग्रामीणों के साथ हुए संवाद के दौरान जिला पंचायत के सीईओ प्रियंक मिश्र भी मौजूद थे । कलेक्टर ने लुहारी एवं आसपास के ग्रामवासियों की बिजली बिल संबंधी समस्या के निदान के लिए शिविर लगाने के निर्देश दिये । उन्होंने इस शिविर में बीपीएल कार्ड बनाने के प्राप्त आवेदनों का निराकरण करने और भवन संनिर्माण कर्मकार मंडल की योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए निर्माण श्रमिकों का पंजीयन करने के निर्देश भी दिये । श्री यादव ने इस अवसर पर मौजूद एसडीएम को पीएचई और जल निगम के अधिकारियों की बैठक लेकर नल-जल योजनाओं की समीक्षा करने कहा । उन्होंने ग्राम मिड़की में अवैध उत्खनन की शिकायत पर एसडीएम को तुरंत कार्यवाही करने की हिदायत दी ।

पर्याप्त मात्रा में रखे जायें एंटी रेबीज के इंजेक्शन:

कलेक्टर ने ग्राम लुहारी के बाद कटंगी में भी नगर पंचायत कार्यालय में स्थानीय निवासियों से संवाद किया । उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कटंगी में एंटी रेबीज के इंजेक्शन की पर्याप्त संख्या में उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर को दिये । श्री यादव ने कटंगी वासियों की शिकायत पर उत्पाती बंदरों को पकड़ने के लिए आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश वन विभाग के अधिकारियों को दिये ।

पोला में लगाई किसानों की चौपाल:

कटंगी के बाद कलेक्टर ने मझौली जनपद पंचायत क्षेत्र का भ्रमण भी किया । उन्होंने ग्राम पोला में किसानों की चौपाल लगाई और उनसे खेती-किसानी पर चर्चा की । श्री यादव ने किसानों से कम लागत में ज्यादा उत्पादन लेने के लिए पारंपरिक तरीकों के स्थान पर खेती की नई तकनीकों का इस्तेमाल करने तथा रसायनिक उर्वरकों का संतुलित उपयोग करने की सलाह दी । श्री यादव ने चौपाल में जैविक खेती को अपनाने, खेत-तालाब बनाकर सिंघाड़ा लगाने तथा मछली पालन करने के लिए किसानों को प्रेरित किया ।
कलेक्टर ने किसानों से चर्चा के दौरान एसडीएम को पोला में ग्रामवासियों की समस्याओं के निराकरण के लिए शिविर लगाने के निर्देश दिये । उन्होंने शिविर में स्वरोजगार ऋण योजनाओं सहित शासन की अन्य योजनाओं की जानकारी भी ग्रामीणों को दिये जाने की बात कही ।

मझौली में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का किया निरीक्षण:

कलेक्टर ने भ्रमण के दौरान सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मझौली का भी निरीक्षण किया । उन्होंने अस्पताल परिसर में साफ-सफाई में कमी पर नाराजगी भी व्यक्त की तथा इस ओर ज्यादा ध्यान देने के निर्देश चिकित्सा अधिकारियों को दिये । श्री यादव ने मझौली सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र परिसर स्थित पोषण पुनर्वास केन्द्र का भी अवलोकन किया और खराब विद्युत उपकरणों को तत्काल बदलने के निर्देश अधिकारियों को दिये

शेयर करें: