कलेक्टर ने किया स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत चल रहे विकास कार्यों का निरीक्षण

जबलपुर : कलेक्टर श्री भरत यादव ने आज घंटाघर के समीप बन रहे सिटी कन्वेंशन सेंटर सहित स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत शहर में चल रहे विभिन्न विकास कार्यों का निरीक्षण किया । नगर निगम के आयुक्त आशीष कुमार, अपर आयुक्त नगर निगम जी.एस. नागेश, कार्यपालन यंत्री अजय शर्मा एवं कमलेश श्रीवास्तव तथा स्मार्ट सिटी परियोजना से जुड़े अधिकारी इस दौरान मौजूद थे ।
कलेक्टर ने सिटी कन्वेंशन सेंटर के निरीक्षण के दौरान इसके निर्माण को गति प्रदान करने के निर्देश दिये । उन्होंने निर्माण कार्य में इस्तेमाल की जा रही सामग्री की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने की जरूरत बताई । श्री यादव ने कन्वेंशन सेंटर स्थित प्रयोगशाला में ही निर्माण सामग्री की क्वालिटी की जांच किये जाने पर जोर दिया ।कलेक्टर ने कन्वेंशन सेंटर का निर्माण के लिए जरूरी आर्थिक संसाधन जुटाने पीपीपी मॉडल को अपनाने का सुझाव भी दिया । उन्होंने कहा कि इसके लिए उपयुक्त कार्ययोजना तैयार की जाये तथा इच्छुक निवेशकों की बैठक बुलाकर उनके साथ सभी पहलुओं पर विस्तार से चर्चा की जाये ।
श्री यादव ने कन्वेंशन सेंटर के बाद तीन पत्ती चौक के समीप पुराने बस स्टैंड का मुआयना कर यहां करीब तीन एकड़ भूमि पर पीपीपी मॉडल के तहत सिटी बस टर्मिनल, शॉपिंग काम्पलेक्स, मॉल और मल्टीप्लेक्स बनाने की तैयार कार्ययोजना पर चर्चा की । उन्होंने शहर के मध्य में स्थित इस स्थान को आकर्षक स्वरूप में विकसित करने पर बल देते हुए कहा कि इसके लिए सभी संबंधित पक्षों तथा इच्छुक निवेशकों की बैठक बुलाई जाये । श्री यादव ने कार्ययोजना में भी आर्थिक पहलुओं को भी शामिल करने की जरूरत बताई ताकि न केवल राजस्व में वृद्धि हो बल्कि रोजगार के भी अवसर बढ़ें ।
कलेक्टर ने दमोहनाका स्थित इंटीग्रेटेड कंट्रोल एंड कमांड सेंटर का भी अवलोकन किया । उन्होंने सेंटर की गतिविधियों की जानकारी इस दौरान ली । श्री यादव ने कंट्रोल एंड कमांड सेंटर द्वारा संग्रहित डाटा का जनहित में बेहतर उपयोग सुनिश्चित करने की जरूरत बताई तथा राजस्व एवं कर संग्रहण, डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन की मॉनीटरिंग, बाढ नियंत्रण एवं आपदा प्रबंधन जैसे कार्यों को भी कंट्रोल एंड कमांड सेंटर की गतिविधियों में शामिल करने का सुझाव दिया ।श्री यादव ने सार्वजनिक वितरण प्रणाली की मॉनीटरिंग करने एवं जिले में स्थित खनिज की खदानों पर भी कंट्रोल एंड कमांड सेंटर से नजर रखे जाने की योजना तैयार करने के निर्देश अधिकारियों को दिये । उन्होंने नागरिकों की सुविधा के मद्देनजर नगर निगम के विभिन्न सेवाओं के लिए अलग-अलग ऑनलाइन एप्लीकेशन के स्थान पर सभी माड्यूल्स को एक एप्लीकेशन में ही समाहित करने की आवश्यकता बताई ।श्री यादव ने इस मौके पर शहर के प्रमुख चौराहों पर लगाये गये कैमरों से आईटीएमएस सिस्टम में दर्ज यातायात नियमों के उल्लंघन के प्रकरणों में कठोर कार्यवाही करने के निर्देश दिये । उन्होंने वाहनों की नंबर प्लेट में छेड़छाड़ करने वालों के विरूद्ध भी सख्त एक्शन लेने की बात कही तथा इसके लिए यातायात पुलिस एवं क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी कार्यालय के अधिकारियों के साथ चर्चा कर समन्वित रणनीति बनाने के निर्देश भी दिये ।

शेयर करें: