कलेक्टर ने किया कृषि उपज मंडी स्थित गेहूं खरीदी केन्द्र का आकस्मिक निरीक्षण

जबलपुर :कलेक्टर श्रीमती छवि भारद्वाज ने आज कृषि उपज मंडी परिसर स्थित गेहूं उपार्जन केन्द्र का आकस्मिक निरीक्षण किया । इस दौरान उन्होंने यहां बड़ी मात्रा में गेहूं के स्टॉक को देखकर अप्रसन्नता व्यक्त की और अधिकारियों को किसानों से खरीदे गये गेहूं के परिवहन एवं भण्डारण में तेजी लाने की हिदायत दी ।श्रीमती भारद्वाज ने निरीक्षण के दौरान खरीदी केन्द्र में बारदानों की उपलब्धता का ब्यौरा भी अधिकारियों से तलब किया । उन्होंने जिला विपणन अधिकारी से कहा कि मांग के अनुरूप कृषि उपज मंडी सहित सभी खरीदी केन्द्रों में बारदानों की उपलब्धता सुनिश्चित की जाये । कलेक्टर ने साफ-साफ शब्दों में कहा कि बारदानें आज रात तक कृषि उपज मंडी स्थित खरीदी केन्द्र में पहुंच जाने चाहिए । उन्होंने गेहूं की तुलाई और ढुलाई के लिए पर्याप्त संख्या में मजदूर लगाने के निर्देश भी खरीदी केन्द्र प्रभारी को दिये । श्रीमती भारद्वाज ने कहा कि किसानों द्वारा खरीदी केन्द्र पर लाये गये गेहूं की तुलाई और परिवहन में रूकावट आई तो खरीदी केन्द्र प्रभारी एवं ट्राँसपोर्टर को समान रूप से जिम्मेदार माना जायेगा और उनके विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी ।
श्रीमती भारद्वाज ने निरीक्षण के दौरान किसानों को किये गये भुगतान की जानकारी भी ली । इस अवसर पर उन्हें बताया गया कि कृषि उपज मंडी परिसर स्थित खरीदी केन्द्र में अभी तक उपार्जित गेहूं का शत-प्रतिशत भुगतान कर दिया गया है । कलेक्टर के निरीक्षण के दौरान जिला आपूर्ति नियंत्रक, जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक के महाप्रबंधक एवं जिला विपणन अधिकारी भी मौजूद थे ।

अधिकारियों की ली बैठक:-

कृषि उपज मंडी परिसर स्थित गेहूं खरीदी केन्द्र के आकस्मिक निरीक्षण के बाद श्रीमती भारद्वाज ने कलेक्टर कार्यालय में उपार्जन व्यवस्था से जुड़े अधिकारियों की बैठक भी ली । उन्होंने बैठक में अधिकारियों को मांग के अनुरूप सभी खरीदी केन्द्रों पर बारदानों की आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश दिये । श्रीमती भारद्वाज ने इस मौके पर किसानों को अब तक हुए भुगतान का ब्यौरा प्राप्त किया । उन्होंने लंबित ईपीओ की समितिवार समीक्षा करते हुए जिला आपूर्ति नियंत्रक से कहा कि बैंक खाता नंबर गलत होने की वजह से जिन किसानों को भुगतान नहीं हो पाया है, ऐसे किसानों को समितियों के माध्यम से बुलाकर उनका बैंक खाता नंबर शीघ्र दुरूस्त करने की कार्यवाही की जाये । कलेक्टर ने जिला आपूर्ति नियंत्रक को भुगतान की प्रक्रिया की प्रतिदिन मॉनीटरिंग करने के निर्देश भी दिये । श्रीमती भारद्वाज ने उपार्जन केन्द्रों पर प्रतिदिन हुई खरीदी की शाम तक ऑनलाइन एंट्री सुनिश्चित करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिये ताकि किसानों को भुगतान में विलंब न हो । उन्होंने ईपीओ जनरेट करने में आ रही कठिनाइयों की जानकारी भी अधिकारियों से ली ।

शेयर करें: