कलेक्टर ने किया उपार्जन केन्द्रों का निरीक्षण  परिवहन और भंडारण में गति लाने के दिये निर्देश

जबलपुर:कलेक्टर श्रीमती छवि भारद्वाज ने आज पाटन और शहपुरा क्षेत्र के उपार्जन केन्द्रों का निरीक्षण कर किसानों से समर्थन मूल्य पर खरीदे गये गेहूं के परिवहन और भंडारण के कार्य में गति लाने के निर्देश दिये हैं । श्रीमती भारद्वाज ने अधिकारियों को साफ शब्दों में हिदायत दी कि दस दिन के भीतर उपार्जन केन्द्रों से गेहूं का उठाव कर लिया जाना चाहिए । कलेक्टर ने खरीदी केन्द्रों के निरीक्षण की शुरूआत आरछा से की । बाद में उन्होंने नुनसर, उड़ना मेढ़ी, सरौंद और बेलखेड़ा केन्द्रों का निरीक्षण भी किया । इस दौरान अपर कलेक्टर ग्रामीण डॉ. सलोनी सिडाना, जिला आपूर्ति नियंत्रक सी.एस. जादौन और जिला विपणन अधिकारी विवेक तिवारी भी उनके साथ थे । कलेक्टर के उपार्जन केन्द्रों पर बड़ी मात्रा में रखे गेहूं के स्टॉक पर अप्रसन्नता व्यक्त की । श्रीमती भारद्वाज ने अधिकारियों को परिवहन के कार्य में तेजी लाने के लिए ट्राँसपोर्टर के माध्यम से ट्रकों की संख्या बढ़ाने की हिदायत दी । उन्होंने कहा कि खरीदी कार्य में लगी समितियाँ अपने स्तर पर भी गोदामों तक गेहूं का परिवहन करा सकती हैं । समितियों को परिवहन में आने वाला खर्च विपणन संघ से दिलाया जायेगा ।
श्रीमती भारद्वाज ने खरीदी केन्द्रों से परिवहन के साथ-साथ गोदामों में गेहूं के भंडारण में भी तेजी लाने के निर्देश अधिकारियों को दिये । उन्होंने कहा कि अनुबंधित गोदामों की भंडारण क्षमता का पूरा उपयोग कर लिया गया हो तो खरीदी केन्द्रों से संलग्न साइलो कैप तक गेहूं का परिवहन और भंडारण सुनिश्चित किया जाये । कलेक्टर ने निरीक्षण के दौरान खरीदी केन्द्रों से संलग्न गोदामों को सुबह सात बजे से खोलने तथा पर्याप्त संख्या में हम्मालों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिये ।

श्रीमती भारद्वाज ने गेहूं उपार्जन केन्द्रों के निरीक्षण के दौरान किसानों से भी चर्चा की और उनसे एफएक्यू मापदंड के मुताबिक साफ-सुथरा गेहूं ही लाने का आग्रह किया । उन्होंने खरीदी केन्द्रों पर रखे नॉन एफएक्यू और रिजेक्टेड गेहूं को हटवाने के निर्देश भी अधिकारियों को दिये । निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने किसानों से खरीदे गेहूं की गुणवत्ता की जांच की तथा परिवहन एवं भंडारण के लिए तैयार बोरियों में रखे गेहूं की तुलाई भी कराई । उन्होंने अब तक खरीदे गये गेहूं और किसानों को हुए भुगतान का ब्यौरा भी इस दौरान खरीदी केन्द्र प्रभारियों से लिया ।

शेयर करें: