करोड़ों रुपये का लालच देकर एन. जी.ओ. से ठग लिए लाखों रुपये

0

जबलपुर :कहते है लालच बुरी बला होती है लेकिन लालच में फंसे एन.जी.ओ. को विदेश से पच्चीस करोड़ रूपये का फंड दिलाने का कहकर षणयंत्र रचते हुये 7 लाख रूपये धोखाधड़ी पूर्वक हड़प लिए गए मामला ओमती थाना क्षेत्र का है पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक तनवीर सिंह सलूजा उम्र 27 वर्ष निवासी मदनमहल गुरूद्वारे के पीछे थाना गढा ने लिखित शिकायत की कि वह रेत-गिट्टी सप्लाई का काम पिछले सात-आठ वर्षो से कर रहा है । दिनांक 20/09/19 को उसकी मुलाकात डां. एच.एन. ठाकुर निवासी अधारताल धनी की कुटिया वाले से हुई, डां. एच. एन. ठाकुर ने उसे बताया कि मैं एनजीओ को विदेश से (सीएसआर) फंड दिलवाता हूँ, आप मुझे पन्द्रह करोड की सम्पत्ति दिखाओगे तो आपके एन.जी.ओ. को पच्चीस करोड रूपये दिलाउगां, उसने गायकवाड़ के संभावना ट्रस्ट की फाईल बुलवाई तो उनके द्वारा कहा गया कि कम्पनी बुलवाने के लिये पांच लाख रूपये अभी एंव जब कम्पनी आयेगी तो दो लाख देना पड़ेगा । दिनांक 25/09/19 को करीब शाम 04 से 05 बजे के बीच बुकिंग की राशि लेकर अपने मित्र अशोक मिश्रा के साथ अधारताल धनी की कुटिया के पास गया एवं डां. एच.एन. ठाकुर को पांच लाख रूपये नगद दिया, डां. एच.एन. ठाकुर ने कहा कि मैं पार्टी को जल्द बुलाकर आपसे मिलवा दूंगा। दिनांक 08/10/19 को डां. एच.एन. ठाकुर ने उसे फोन पर सूचना दी कि कम्पनी के लोग होटल स्वंय में आ कर रूके है । दिनांक 09/10/19 को शाम 04 से 05 बजे के बीच वह अशोक मिश्रा के साथ ज्योति टाकीज के पास पहुंचा, अशोक मिश्रा ज्योति टाकीज के पास ही रूक गये, वह होटल स्वंय में डां. एच.एन. ठाकुर के बताये अनुसार कमरा न. 105 में पहुचां, जहॉ डां. एच.एन. ठाकुर ने कहा कि 15 मिनिट रिश्ेप्शन पर रूको मैं आपको बुलाता हूँ , कुछ देर बाद एक लडका होटल रूम से रिसेप्सन काउंटर पर आया और बोला कि डां. एच.एन. ठाकुर आपको रूम न. 105 में बुला रहे है, चलो, वह रूम न. 105 में पहुॅचा तो डां. एच.एन. ठाकुर ने पार्टी के रनवीर सिंह तोमर, राजीव देव एंव अजेंद्र सिंह राठौर से मिलवाया, तब उसने डां. एच.एन. ठाकुर को दो लाख रूपये नगद दे दिये, राजीव देव ने कहा कि आपको कश्यप इलेक्ट्रोनिक के नाम की दस लाख रूपये की नान कैंसलेशन डी.डी बनवा कर देना होगा, तब उसने राजीव देव से पूछा कि ये कहा कि कम्पनी है, आपके आधार कार्ड की कॅापी चाहिये तो राजीव देव ने आधार कार्ड देने से मना कर दिया, उसे शंका हुई फिर उसने कहा कि कल करीब 12/00 बजे तक मैं डी.डी. बनवा कर आप को दे दूंगा, उसके बाद उसने होटल से जाकर कश्यप इलेक्ट्रोनिक कम्पनी को नेट पर सर्च किया जो नहीं मिली उसे शंका और अधिक हो गयी । आज दिनांक 10/10/19 को उसने अशोक मिश्रा को बताया कि मेरे साथ धोखाधडी हो रही है, ज्योति टाकीज स्वंय होटल आ जाओ, अशोक मिश्रा अपने साथी रज्जन उर्फ राजेंद्र सोनकर के साथ होटल स्वंय आये तथा उससे बोले कि मैं बात करता हूँ, उसने अशोक मिश्रा को राजीव देव से मिलवाया, आशोक मिश्रा ने राजीव देव से पूछा कि आप कैसे रूपये ट्रांसफर करेगें तब राजीव देव ने कहा कि आप 15 करोड की सम्पति बताओ आपको कम्पनी 25 करोड रूपये देगी, तो अशोक मिश्रा ने कहा कि आप के साथ औेर कौन-कौन है तो राजीव देव ने रनवीर सिंह तोमर ,विपिन कुमार, उमेश कुमार, अजेंद्र सिंह, प्रताप नारायण गर्ग, आशीष कुमार, बसीरा इब्राहिम बाईहरसोलिया से स्वयं होटल के कमरा न. 303, 309 में मिलवाया, उसके बाद अशोक मिश्रा ने कहा आप लोगो को डीडी बनबा कर देते है एैसा कहते हुये हम तीनो रूम के बाहर आ गये। अशोक मिश्रा ने रज्जान सोनकर से कहा कि ये लोग ठगी गैंग के है ।डां. एच.एन. ठाकुर निवासी अधारताल व उनके आठ साथियो ने षडयंत्र रचते हुये उससे सात लाख रूपये लेकर धोखाधडी की है। फरियादी की लिखित शिकायत पर पुलिस ने 1-डॉ. होमनाथ ठाकुर, 2-राजीव देव, 3-रनवीर सिंह तोमर, 4-विपिन कुमार, 5-उमेश कुमार, 6-अजेंद्र सिंह, 7-प्रताप नारायण गर्ग, 8-आशीष कुमार, 9-बसीरा इब्राहिम बाईहरसोलिया के विरूद्ध धारा 420,120बी का अपराध पंजीबद्ध करते हुए मामले की जांच सुरु कर दी है

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x