बुजर्ग ने जिला विधिक सेवा प्राधिकरण को कहा शुक्रिया

0

71 वर्षीय बुजुर्ग सोमनाथ चौधरी की संपत्ति से उन्हें प्रताडित करने वाले पुत्र व पुत्रवधु के बेदखली आदेष सीनियर सिटीजन अधिकरण ने किया
जबलपुर :प्रष्नाधीन संपत्ति का एकमात्र स्वामी आदवेदक बुजुर्ग र्है अनावेदकगण पुत्र व पुत्रवधु के कृत्यों एवं प्रताडनाओं से बुजुर्ग का जीवन सम्मान एवं संपत्ति खतरे मे है। अनावेदकगणों को निर्देष दिया जाता है कि निर्णय के 30 दिन के अंदर बुजुर्ग के संपत्ति को खाली कर अपना सामान हटायें पालन न करने पर थाना प्रभारी कोतवाली अनावेदक के विरूद्ध आदेष का पालन करवाना सुनिष्चित करें। जैसे ही उपरोक्त शब्दों के साथ बुजुर्ग श्री सोमनाथ चौधरी के पक्ष मे संदर्भित सीनियर सिटीजन अधिकरण अनुभाग अधारताल का आदेष पारित हुआ बुजुर्ग के चेहरे मे रौनक आई और बुजुर्ग ने जिला विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर पंहुच कर आदेष की कॉपी जिला विधिक सेवा प्राधिकरण को सौपते हुये शुक्रिया अदा करते हुये व्यक्त किया कि समाचार पत्रों में अन्य बुजुर्गो के पक्ष में प्रताडित करने वाली संतानो के विरूद्ध बेदखली कार्यवाही कराया जाकर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा बुजुर्गा को त्वरित निःषुल्क न्याय दिलाये जाने की कार्यवाही का जैसा समाचार पढकर वह न्याय हेतु जिला विधिक सेवा प्राधिकरण न्याय की आष लिये आया था वैसा ही पाया तथा उसे उम्मीद नही थी कि रिटायर्ड बुजुर्ग को इतने जल्दी निःषुल्क न्याय इस संस्था के सहयोग से प्राप्त हो सकता है। हम बुजुर्गो का आर्षीवाद, दुआऐं आपकी पूरी संस्था के साथ है यह सुनते ही जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री शरद भामकर द्वारा व्यक्त किया कि बुजुर्गो के त्वरित न्याय के प्रति पूरी संवेदनषीलता के साथ जिला विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर क्रतसंकल्प है। यह प्रकरण बुजुर्ग श्री सोमनाथ चौधरी पिता श्री मचल चौधरी निवासी 2204 प्रताप मार्केट के सामने दमोह रोड चेरीताल वार्ड नं.27 जबलपुर स्थित बुजुर्ग के मकान का था जो कि बुजुर्ग के व्यक्तिगत स्वत्व की संपत्ति की थी जिसपर बुजुर्ग के पुत्र व पुत्रवधु साथ में रह रहे थे तथा उनके प्रताडना व अपमान से बुजुर्ग ने क्षुब्ध होना व्यक्त करते हुये इस आषय की षिकायत जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में की थी कि उसके अनावेदन पुत्र व पुत्रवधु संदर्भित मकान उनके नाम कराने का दबाव दे रहे थे व उन्हें अपमानित व प्रताडित कर रहे थे तथा बुजुर्ग द्वारा मकान खाली करने कहने पर छेडछाड व घरेलू हिंसा का झूठा मामला दर्ज कराये जाने की धमकी दी जा रही थी जिससे क्षुब्ध होते हुये बुजुर्ग ने स्थानीय समाचार पत्र में पूर्व में बुजुर्गो को प्रताडित करने वाली संतानो को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा निःषुल्क विधिक सहायता दी जाकर बेदखल कराये जाने का समाचार पढकर अपनी षिकायत के साथ बुजुर्ग जिला विधिक सेवा प्राधिकरण पहुंचा था जहां प्राधिकरण ने बुजुर्ग का निःषुल्क दावा टाईप करवाकर पैरालीगल वालेंटियर के माध्यम से संदर्भित माता पिता एवं वरिष्ठ नागरिको का भरण पोषण एवं कल्याण अधिनियम के तहत अधिसूचित गोरखपुर एसडीएम के अधिकरण में मामला दायर करवाया जाकर इस प्रकरण की मॉनीटरिंग की गई जिसके परिणामस्वरूप बुजुर्ग के पक्ष में अल्प समय में ही संदर्भित आदेष पारित हुआ। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के सचिव श्री शरद भामकर ने यह भी बताया कि जबलपुर के सभी समाचार पत्र बुजुर्गो के ऐसे समाचारों को प्रमुखता से प्रकाषित करते है जिसका परिणाम यह हो रहा है कि ऐसे पीडित बुजुर्ग काफी संख्या मे रोजाना जिला विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर पहुंच रहे है जिनके लिये विषेष फ्रंट ऑफिस हेल्पडेस्क स्थापित किया गया है जहां बुजुर्ग की षिकायत के मात्र दो घंटे के भीतर दावा तैयार कर संदर्भित अधिकरण मे प्रकरण दायर करवा दिया जाता है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x