एमएलबी स्कूल में मतगणना आज प्रात: 8 बजे से त्रिचक्रीय सुरक्षा की चाक-चौबंद व्यवस्था 22 प्रत्याशियों के भाग्य का होगा फैसला

0

जबलपुर :भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार जबलपुर संसदीय क्षेत्र के मतों की गणना गुरूवार 23 मई को प्रात: 8 बजे से महारानी लक्ष्मीबाई शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में होगी और चुनाव मैदान में मौजूद सभी 22 प्रत्याशियों के ईव्हीएम में कैद भाग्य का फैसला होगा। जिले में इस बार डाकमत पत्रों और ईव्हीएम से मतों की गिनती का कार्य एक साथ प्रात: 8 बजे ही शुरू हो जाएगा। मतगणना स्थल में सभी को त्रिचक्रीय सुरक्षा कवच से गुजरना होगा। ऐहतियातन चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती छवि भारद्वाज के निर्देशन में मतगणना से संबंधित सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। मतगणना कक्षों तक ईव्हीएम मशीनों को पहुंचाने के लिए प्रात: 6 बजे निर्वाचन आयोग के प्रेक्षकों और मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों की मौजूदगी में स्ट्रांग रूम खोला जाएगा। सभी मतगणना कर्मी मतगणना केन्द्र पर प्रात: 6 बजे पहुंचेंगे। इसके पहले प्रात: 5 बजे प्रेक्षकों की उपस्थिति में अंतिम चरण का रेण्डमाइजेशन होगा। इसके बाद गणना कर्मियों को बताया जाएगा कि उन्हें किस टेबिल पर मतों की गणना करनी है। मतगणना की प्रत्येक गतिविधि पर नजर रखने के लिए 79 सीसीटीव्ही कैमरे लगाए गए हैं। ईव्हीएम मशीनों को स्ट्रांग रूम से मतगणना कक्ष तक जिस कॉरीडोर से लाया जाएगा, वहां पर भी सीसीटीव्ही कैमरा लगाया गया है। सुरक्षा के मद्देनजर स्ट्रांग रूम की भी सीसीटीव्ही कैमरे द्वारा निरंतर निगहबानी की गई।

गणना की वीडियोग्राफी

निष्पक्ष और पारदर्शी मतगणना सुनिश्चित कराने के लिए डाकमत पत्रों से लेकर ईव्हीएम के मतों की तथा व्हीव्हीपेट स्लिप की गणना की संपूर्ण प्रक्रिया की वीडियोग्राफी होगी। प्रवेश पत्र धारी व्यक्तियों और भारत निर्वाचन आयोग द्वारा प्राधिकृत व्यक्तियों के अलावा किसी को भी मतगणना परिसर में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। पासधारकों को भी कड़ी सुरक्षा जांच के बाद ही मतगणना में प्रवेश मिलेगा।

विधानसभावार होगी गणना

मतगणना विधानसभावार होगी। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के मतों की गणना 14-14 टेबिलों पर की जायेगी। इसके लिए एमएलबी स्कूल के दो-दो कक्षों का इस्तेमाल किया जा रहा है। डाकमत पत्रों की गणना भूतल स्थित कक्ष क्रमांक-छह में होगी। पाटन विधानसभा क्षेत्र के मतों की गणना 22 चक्र में एमएलबी स्कूल के भूतल पर स्थित कक्ष क्रमांक-एक और दो में होगी। इसी तरह बरगी विधानसभा क्षेत्र के मतों की गणना 21 चक्रों में कक्ष क्रमांक-तीन और चार में की जायेगी। सिहोरा के मतों की गणना 21 चक्रों में भूतल के कक्ष क्रमांक-सात और आठ में तथा जबलपुर पश्चिम के मतों की गिनती 20 चक्रों में कक्ष क्रमांक-नौ और दस में होगी। विधानसभा क्षेत्र जबलपुर पूर्व की मतगणना 16 चक्रों में प्रथम तल के कक्ष क्रमांक-बारह एवं तेरह में तथा विधानसभा क्षेत्र जबलपुर उत्तर की मतगणना 18 चक्रों में प्रथम तल के कक्ष क्रमांक चौदह एवं पन्द्रह में होगी । विधानसभा क्षेत्र पनागर के मतों की गणना 22 चक्रों में कक्ष क्रमांक-सोलह एवं सतरह में तथा विधानसभा क्षेत्र जबलपुर केंट के मतों की गणना 16 चक्रों में कक्ष क्रमांक अठारह एवं उन्नीस में की जायेगी । जबकि कक्ष क्रमांक पांच का इस्तेमाल केन्द्रीय सारणीयन कक्ष के तौर पर अथवा रिटर्निंग अधिकारी स्तर पर परिणामों के टेबुलेशन के लिए किया जायेगा ।
हर चक्र में रैण्डमली होगी दो ईव्हीएम के मतों की गणना मतगणना की विशुद्धता सुनिश्चित करने के लिए विधानसभा क्षेत्रवार की जाने वाली मतों की गणना के प्रत्येक चक्र के अंत में दो मतदान केन्द्रों की ईव्हीएम मशीनों का रेण्डम आधार पर चयन कर गिनती की पुन: जांच की जायेगी । यह कार्यवाही आयोग द्वारा नियुक्त प्रेक्षकों द्वारा सम्पन्न कराई जायेगी। इस कार्य में प्रेक्षकों की सहायता हेतु रिजर्व पूल में रखे गये गणना सुपरवाईजरों एवं गणना सहायकों का चयन किया जायेगा। गणना सुपरवाईजरों और गणना सहायकों का यह चयन भी रेण्डम आधार पर होगा।

चक्रवार मिलेगी परिणाम की प्रति

मतगणना में पारदिर्शता बरतने के उद्देश्य से प्रत्येक गणना कक्ष में उपस्थित गणना अभिकर्त्ताओं को उस गणना मेज के प्रारूप 17-सी के भाग-दो में तैयार प्रत्येक चक्र के परिणाम की फोटो प्रति प्रदान की जायेगी ।

पांच बूथों की व्हीव्हीपेट की पर्चियों से होगा ईव्हीएम के वोटों का मिलान

मतगणना में प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के पांच मतदान केन्द्र का लाटरी द्वारा चयन कर उन बूथों की ईव्हीएम के मतों की गणना का मिलान उसी बूथ की व्हीव्हीपेट मशीन की पर्चियों से किया जायेगा । लेकिन ऐसा उस विधानसभा क्षेत्र की अंतिम चक्र के वोटों की गिनती पूरी होने के बाद ही किया जायेगा । इसकी भी वीडियोग्राफी कराई जायेगी ।
प्रेक्षक रहेंगे मौजूद भारत निर्वाचन आयोग ने मतगणना के लिए जबलपुर संसदीय क्षेत्र में शामिल आठ विधानसभा क्षेत्रों के लिए चार सामान्य प्रेक्षक तैनात किए हैं । विधानसभा क्षेत्र पनागर एवं सिहोरा की मतगणना के लिए सामान्य प्रेक्षक वाय. सत्यनारायण, जबलपुर केंट और जबलपुर पश्चिम के लिए सामान्य प्रेक्षक विजय भूषण पाठक, पाटन और बरगी विधानसभा क्षेत्र की मतगणना के लिए सामान्य प्रेक्षक श्रीमती व्ही. अमुथ्थावल्ली तथा जबलपुर पूर्व और जबलपुर उत्तर विधानसभा क्षेत्र के लिए आयोग द्वारा नियुक्त सामान्य प्रेक्षक अखण्ड प्रताप सिंह मतगणना कक्ष में पूरी मतगणना प्रक्रिया के दौरान मौजूद रहेंगे ।

कंट्रोल यूनिट का डिस्पले पैनल देख सकेंगे अभिकर्त्ता

मतगणना के दौरान ईवीएम के कंट्रोल यूनिट पर रिजल्ट बटन दबाते समय प्रत्याशियों के एजेंट को डिस्प्ले पैनल दिखाया जायेगा । ताकि वे प्रत्येक प्रत्याशी के पक्ष में डाले गए वोट की गिनती कर सकें, जो कंट्रोल यूनिट के डिस्पले पैनल पर प्रदर्शित होंगी।
गणना कर्मियों को गेट नंबर एक से तो अभिकर्त्ताओं को गेट नंबर दो से मिलेगा प्रवेश मतगणना स्थल पर केवल पासधारी व्यक्तियों को ही प्रवेश की अनुमति होगी। सभी गणना कर्मी और निर्वाचन आयोग द्वारा प्राधिकृत मीडिया कर्मी भी एमएलबी स्कूल के गेट नंबर-एक से प्रवेश पायेंगे। उम्मीदवार, उनके निर्वाचन अभिकर्त्ता एवं गणना अभिकर्त्ताओं को गेट नंबर-दो से मतगणना स्थल पर प्रवेश मिलेगा। गणना अभिकर्त्ताओं को सुबह 7 बजे तक मतगणना स्थल पर प्रवेश करना होगा। मतगणना केन्द्र पर कोई भी मतगणना एजेंट मोबाइल फोन, केलकुलेटर, खाने-पीने की सामग्री लेकर नहीं आ सकेंगे। गणना परिसर में धूम्रपान व तम्बाकू का उपयोग प्रतिबंधित है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x