एटीएम का क्लोन बनाकर एटीएम से पैसे पार करने वाले गिरोह का एक आरोपी गिरफ्तार 6 फरार

0

जबलपुर :शहर के आधारताल थाना क्षेत्रों में एटीएम कार्ड का क्लोन बनाकर खाते से पैसे निकालने वाले गिरोह के एक साथी को पुलिस ने गिरफ्तार  कर उसके अन्य  6 साथियों की तलाश सुरु कर दी है इन सब आरोपियों के खिलाप पुलिस ने थाना अधारताल में अपराध क्रमांक 10/20 की धारा 417,420,467,468,471,474,380,120 (बी), 34 भादवि 66 (सी), 66 (डी) आईटी एक्ट  2-थाना अधारताल का अपराध क्रमांक 11/20 धारा 417,420,467,468,471,474,380,120 (बी), 34 भादवि 66 (सी), 66 (डी) आईटी एक्ट  के तहत मामला दर्ज करते हुए फिलहाल गिरोह के एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है

यूपी के है आरोपी

वहीं पुलिस की गिरफ्त में आये अब्दुल कलाम खान पिता कमालुद्दीन उम्र 39 साल निवासी ग्राम तिलौरी सगरा सुंदरपुर थाना लालगंज अझारा जिला प्रतापगढ  के बाद फरार आरोपीयों में -आरिफ खान निवासी ग्राम पतुर्की  जिला प्रतापगढ (उ0प्र0)ओम प्रकाष जयसवाल निवासी ग्राम सगरा सुंदरपुर जिला प्रतापगढ (उ0प्र0)सैय्यद खान उर्फ षहजाद निवासी ग्राम तिलौरी जिला प्रतापगढ (उ0प्र0)जाहिद अली  निवासी ग्राम मकई जिला प्रतापगढ (उ0प्र0)वसीम  निवासी ग्राम पतुर्की  जिला प्रतापगढ (उ0प्र0)नसीरूद्दीन निवासी ग्राम सगरा सुंदरपुर जिला प्रतापगढ (उ0प्र0)की पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है

32 पुराने एटीएम सहित ये चीजें हुई बरामद

वहीं गिरफ्तार हुए आरोपी से जप्त मशरूका में लेनोवो कंपनी का 01 लैपटाप, 01 स्कैमर, 01 चार्जर, 32 पुराने एटीएम ,  02 मोबाईल, 01 स्विफ्ट डिजायर कार, नगद 10 हजार रूपये पुलिस ने जप्त कर लिए

ये है पहला घटनाक्रम

थाना अधारताल में दिनॉक 4-1-2020 को जनार्दन सिंह ठाकुर उम्र 61 वर्ष निवासी मंटा डेरी के पीछे महाकौशल कालोनी अधारताल ने लिखित शिकायत की थी कि दिनॉक 26-8-19 को 11-30 बजे अधारताल कमला भण्डार के सामने पीएनबी एटीएम में अपने यूको बैंक एटीएम कार्ड से पैसा निकालने गया था, रूपये निकालने का प्रयास करने पर  रूपये नहीं निकले, तभी एक लडका मोटा सा एटीएम के अंदर आया एवं बाजू वाले एटीएम के पास खडा होकर गौर से देखने लगा, उससे पैसा नहीं निकला तो बोला कि बताओ अंकल मैं निकाल देता हूॅ, उसने अपना एटीएम कार्ड उस लडके को दिया जिसने 2 बार रूपये निकालने का प्रयास किया, एवं उससे 2 बार एटीएम का कोड डलवाया लेकिन रूपये नहीं निकले थे,। दिनॉक 27-8-19 को उसने अपने मोबाईल का मैसिज चैक किया तो 20 हजार, 5 हजार , 20 हजार, 5 हजार कुल 50 हजार रूपये निकाले जाने के मैसिज थे। उसने बैंक जाकर जानकारी ली तो बैंक में बताया गया कि सिविक सैंटर यूको बैंक के एटीएम से दिनॉक 26-8-19 को रात 11-49 बजे एवं 11-50 बजे तथा दिनॉक 27-8-19 को 12-04 बजे एवं 12-05 बजे रूपये निकाले गये है। अज्ञात लडकें द्वारा क्लोन एटीएम के माध्यम से 50 हजार रूपये उसके एकाउंट से निकालकर धोखाधडी की गयी है। शिकायत पर अज्ञात युवकों के विरूद्ध अपराध क्रमांक 10/2020 धारा 417,420,467,468,471,474,380,120बी,34 भादवि, 66 सी, 66 डी, आईटी एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। 

ये है दूसरा घटनाक्रम

थाना अधारताल में दिनॉक 5-1-2020 को विक्रांत शर्मा उम्र 37 वर्ष निवासी सीओडी कालोनी सुहागी ने लिखित शिकायत की थी कि उसके पिता राजेन्द्र कुमार शर्मा का अधारताल स्थित एसबीआई बैंक में एकाउंट है, उसके पिता इंदौर गये हुये थे जहॉ से पिता ने दिनॉक 26-12-19 को फोन कर बताया कि उनके मोबाईल में एकांउट से 4-23 बजे 20 हजार रूपये  उएवं 4-29 बजे 6 हजार रूपये निकाले जाने का मैसिज आया है, पिता के बाहर होने पर वह बैंक गया जहॉ से जानकारी प्राप्त की तो ज्ञात हुआ कि रूपये मालामाटा रोड महाराष्ट्र से निकाले गये है, पिता जी ने बताया कि दिनॉक 23-12-19 को सुहागी स्थित एटीएम मे रूपये निकालने गया था जहॉ दो अज्ञात युवक एटीएम के अंदर थे जो निर्देश दे रहे थे कि किस तरह रूपये निकालें, उनमे से एक युवक के सिर में पुरानी चोट का निशान था,। शिकायत पर अपराध क्रमांक 11/2020धारा 417,420,467,468,471,474,380,120बी,34 भादवि, 66 सी, 66 डी, आईटी एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

कार में बैठे मिले आरोपी

वहीँ घटित हुई घटना को गंभीरता  से लेते हुये  पुलिस अधीक्षक जबलपुर अमित सिंह (भा.पु.से.) द्वारा आरोपियें की पतासाजी के सम्बंध में आवश्यक दिशा निर्देश देते हुये शीघ्र गिरफ्तारी हेतु आदेशित किये जाने पर अति0 पुलिस अधीक्षक (अपराध) जबलपुर शिवेश सिह बघेल एवं नगर पुलिस अधीक्षक अधारताल कौशल सिंह के मार्ग निर्देशन में थाना प्रभारी अधारताल, एवं पनागर तथा सायबर सेल की संयुक्त टीम गठित कर आरोपियें की पतासाजी हेतु लगाया  गया। गठित ठीम के द्वारा संदिग्धों के फुटेज प्राप्त किये गये, तथा अधारताल, पनागर क्षेत्र में फुटेज के आधार पर पतासाजी की जा रही थी, दौरान पतासाजी के विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि पनागर में एक शिफ्ट कार जिसका रजिस्ट्रेशन नम्बर एम.एच. 03 बीसी  9998 है में 5-6 लोग जो बाहर के रहने वाले हैं, संदिग्ध लग रहे है, खडे है, सूचना पर तत्काल टीम के द्वारा दबिश दी गयी, मुखबिर के बताये नम्बर की कार में एक व्यक्ति बैठा हुआ मिला, जिसने पूछताछ पर अब्दुल कलाम निवासी  सगरा सुंदरपुर थाना लालगंज अझारा जिला प्रतापगढ उ.प्र. बताया, कार की  तलाशी ली गयी तो कार में एक लेपटॉप, ए0टी0एम0 स्वाईप मषीन, 32 ए0टी0एम0 कार्ड, 02 मोबाईल रखे हुये मिले, संदेह होने पर अब्दुल कलाम को थाना अधारताल लाया गया एवं सघन पूछताछ की गयी तो अपने साथी आरिफ खान  , ओम प्रकाष जयसवाल , सैय्यद खान उर्फ षहजाद, जाहिद अली , वसीम,  नसीरूद्दीन  सभी निवासी   जिला प्रतापगढ (उ0प्र0) के साथ मिलकर एटीएम का क्लोन तैयार कर, क्लोन किये गये हुये एकटीएम से रूपये निकालना स्वीकार किया। अब्दुल कलाम के साथी जो पनागर में ही थे, अब्दुल कलाम के पकडे जाने की जानकारी लगते ही भाग गये, जिनकी गिरफ्तारी के प्रयास जारी है।   

जिस एटीएम में दिखाई देते थे बृद्ध उसीको बनाते थे निशाना

वहीं पुलिस द्वारा पकडे गये आरोपी के बतायेनुसार सभी किराये से कार लेकर निकलते थे, उक्त पकडी गयी कार भी नसीम टूर एण्ड टै्रेवेल्स मुम्बई से किराये पर लेकर निकले थे, तथा एैसे एटीएम की तलाश करते थे जिसमें वृद्ध  महिला/पुरूष रूपये निकाल रहे होते थे, एटीएम में घुसकर पैसा निकाल रहे व्यक्ति के पीछे खडे हो जाते थे, यदि 2 एटीएम होते थे तो बाजू वाले एटीएम में खडे हो जाते थे,  पैसा निकाल रहे व्यक्ति से जल्दी निकालने को कहते थे, तथा  मदद करने के बहाने उनका एटीएम कार्ड लेकर एटीएम में डालकर गलत एंट्री कर बार बार पासवर्ड पूछते तथा पासवर्ड पता हो जाने के बाद एटीएम खराब होने का कारण बताते हुये एटीएम कार्ड वापस कर देते थे, इसी दौरान अन्य साथीगण एटीएम में रहकर बातों में लगाकर एटीएम कार्ड को स्कैमर के जरिए कार्ड को क्लोन कर लेते थे कभी कभी एटीएम एक्सचेंज भी कर लेते थे, पूर्व से ही ज्ञात पासवर्ड के जरिये अन्य दूसरे स्थान के एटीएम से रूपये निकाल लेते थे। 

इनकी रही महत्वपूर्ण भूमिका

वहीँ घटना में आरोपी को गिरफ्तार कर पूछताछ करने मे थाना प्रभारी अधारताल जियाउल हक, थाना प्रभारी पनागर आर0के0सोनी, थाना अधारताल के उप निरीक्षक महेन्द्र मिश्रा, सहायक उप निरीक्षक टेकचंद्र षर्मा, सायबर सेल से उप निरीक्षक नीरज नेगी, आरक्षक राजेष शर्मा, नितिन जोषी, उपेन्द्र गौतम, जयेन्द्र इनवाती, आदित्य कुमार, दुर्गेष दुबे, राजा मिश्रा, अभिषेक मिश्रा, कृष्ण चन्द्र तिवारी, सौरभ षुक्ला, चंद्रिका पड़वार, दीपक मिश्रा, भगवान पटेल, नवनीत चक्रवर्ती एवं अभिदीप भट्टाचार्य की उल्लेखनीय भूमिका रही। पुलिस अधीक्षक जबलपुर अमित सिंह (भा.पु.से.) ने  टीम को नगद पुरूस्कार से पुरूस्कृत करने की घोषणा की है ।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x