आचार संहिता के उल्लंघन के 703 प्रकरणों में एफआईआर दर्ज 

19 हजार 185 बैनर-पोस्टर और दीवार पर लिखे नारे हटाए गए
जबलपुर, लोकसभा चुनाव की तारीख नजदीक आ रही है जिले में आदर्श आचार संहिता और सम्पत्ति विरूपण अधिनियम का उल्लंघन रोकने गठित किए गए एमसीसी, एफएसटी, एसएसटी और व्हीएसटी दलों की निर्वाचन नियमों का पालन कराने की जा रही कार्यवाही में भी तेजी आने लगी है। जिला निर्वाचन कार्यालय के अनुसार लोकसभा चुनाव की घोषणा होने के बाद से जिले में सम्पत्ति विरूपण अधिनियम का पालन कराने की गई कार्यवाही के तहत अभी तक सार्वजनिक एवं निजी सम्पत्तियों से 19 हजार 185 बैनर, पोस्टर और दीवार पर लिखे गए नारों को हटाया गया है। इस कार्यवाही में 37 मामलों में सम्पत्ति विरूपण अधिनियम के तहत प्रकरण भी दर्ज किए गए। इसमें चार प्रकरण निजी सम्पत्तियों के विरूपण से सम्बन्धित हैं। जिला निर्वाचन कार्यालय के मुताबिक एमसीसी, एफएसटी, एसएसटी और व्हीएसटी दलों द्वारा आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के अभी तक 8 हजार 250 प्रकरण दर्ज किए गए हैं तथा 703 प्रकरणों में एफआईआर कराई गई है। आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के दर्ज मामलों में 7 हजार 545 मामले वाहनों से काली फिल्म, स्टीकर, डिजाइनर नम्बर प्लेट, हूटर, फोकस लाईट आदि हटाने से सम्बन्धित हैं । कोलाहल नियंत्रण अधिनियम का उल्लंघन करने के अभी तक दर्ज दस प्रकरणों में सभी प्रकरणों में एफआईआर कराई गई है । बिना अनुमति के जुलूस, सभा आयोजित करने के दर्ज एक प्रकरण में भी एफआईआर कराई गई है ।शासकीय, सार्वजनिक अथवा निजी सम्पत्ति के विरूपण को हटाने की अभी तक की गई कार्यवाही के तहत सर्वाधिक 5 हजार 111 बैनर-पोस्टर एवं दीवार पर लिखे नारे विधानसभा क्षेत्र जबलपुर केंट से हटाए गए हैं।
शेयर करें: