अमरकंटक में पूजन अर्चन कर बोले सीएम कमलनाथ, हमारे प्रदेश की तुलना देश के अग्रणी राज्यों में होगी

0

भोपाल :मुख्यमंत्री कमलनाथ 31 जनवरी के दिन अमरकंटक पहुँचे जहाँ पर उन्होंने माँ नर्मदा का पूजन अर्चन किया ,इसके साथ ही अमरकंटक में नर्मदा महोत्सव शुरू हो चुका है. जिसका शुभारंभ करने मुख्यमंत्री कमलनाथ अमरकंटक पहुंचे थे. इस मौके पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने जनता को संबोधित करते हुए कहा, कि दिल जोड़ने की संस्कृति को समृद्ध बनाने के साथ ही नई सोच और व्यवस्था में परिवर्तन करके हम मध्यप्रदेश को एक नई पहचान देंगे. आने वाले समय में हमारे प्रदेश की तुलना देश के अग्रणी राज्यों के साथ की जाएगी.

विभिन्न संस्कृतियों का समावेश है

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश के हृदय प्रदेश मध्यप्रदेश में विभिन्न संस्कृतियों का समावेश है. मालवा निमाड़, महाकौशल विंध्य क्षेत्र की अलग-अलग संस्कृतियों में आपसी सद्भाव, भाईचारा और प्रेम की भावना मजबूत है. यही विशेषता हमारे देश की है. भारतीय संस्कृति एक ऐसी संस्कृति है जो सबको समेट कर एक झण्डे के नीचे लाकर खड़ा करती है. यही भारत की महानता है जिसे पूरा विश्व आश्चर्य की नजर से देखता है. हमें इसी दिल जोड़ने वाली संस्कृति को और अधिक मजबूत बनाना है. इसे कमजोर करने वाली ताकतों को नाकामयाब करना है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि अमरकंटक में पहली बार हो रहे नर्मदा महोत्सव को आगे भी निरंतर रखा जाएगा. इसे एक आदर्श पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा. जिससे इस पूरे क्षेत्र के जनजीवन में बदलाव आए और इसके जरिए लोगों को रोजगार मिले.

अमरकंटक में पूजन अर्चन कर मा मुख्यमंत्री कमलनाथ ने  3 दिवसीय नर्मदा उत्सव का शुभारंभ किया समारोह में पूर्व मुख्यमंत्री एवं सांसद दिग्विजय सिंह, प्रदेश के आदिम जाति कल्याण मंत्री ओमकार सिंह मरकाम, प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्वर पटेल, जिला पंचायत अध्यक्ष अनूपपुर रूपमती सिंह, पूर्व मंत्री एवं विधायक अनूपपुर बिसाहू लाल सिंह, विधायक बिछिया नारायण सिंह पट्टा, विधायक कोतमा सुनील सराफ, जिला योजना समिति के सदस्य जयप्रकाश अग्रवाल, कमिश्नर शहडोल संभाग आर.बी. प्रजापति, कलेक्टर चंद्र मोहन ठाकुर आचार्य महामण्डलेष्वर ब्रम्हार्षि रामकृष्णानंद महाराज मार्कण्डेय आश्रम अमरकंटक, महामण्डलेष्वर रामभूषण दास जी महाराज शांति कुटी आश्रम अमरकंटक, जगतपुर रामराजेष्वराचार्य मौली सरकार फलाहारी आश्रम अमरकंटक, हिमाद्री मुनि जी कल्याण सेवा आश्रम अमरकंटक तथा मृत्युंजय आश्रम अमरकंटक के प्रतिनिधि व्यवस्थापक योगेश सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं बड़ी संख्या में ग्रामीण जन उपस्थित रहे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x